प्रयागराज, जेएनएन। डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा ने मदन मोहन मालवीय स्टेडियम में 65 वीं प्रदेशीय राज्य स्तरीय विद्यालय खेलकूद प्रतियोगिता का शुक्रवार को शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार का प्रयास है कि हर बच्चे को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिले। आने वाले दिनों में राजकीय विद्यालयों में स्मार्ट क्लास शुरू कराई जाएगी। डिप्‍टी सीएम ने कहा कि प्रदेश सरकार ने नकल विहीन परीक्षा कराई थी। आगे भी नकल बिना परीक्षा कराई जाएगी। साथ ही स्कूलों को संसाधन देने की उन्‍होंने बात कही।

प्रदेश भर के दो हजार खिलाड़ी प्रतियोगिता में शामिल होंगे

65वीं प्रदेशीय विद्यालयीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता का उद्घाटन समारोह शुक्रवार की दोपहर में हुआ। पांच दिवसीय प्रतियोगिता का उद्घाटन प्रदेश के डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा ने दीप प्रज्‍जवलित करके किया। मदन मोहन मालवीय स्टेडियम में आयोजित प्रतियोगिता में प्रदेश भर के करीब दो हजार खिलाड़ी भाग लेंगे प्रतियोगिता तीन वर्गों में होगी। अंडर-14, अंडर-17 और अंडर-19 आयु वर्ग के बालक एवं बालिका की 38 टीमें शामिल होंगी। खिलाडिय़ों के साथ करीब 300 कोच और मैनेजर भी होंगे। बताया कि इसके पहले 2006 और 2017 में भी विद्यालयीय एथलेटिक्स प्रतियोगिता की मेजबानी प्रयागराज कर चुका है। प्रतियोगिता के संचालन के लिए सीएवी, ईश्वर शरण बालिका और बीबीएस इंटर कॉलेज को संयोजक बनाया गया है। उद्घाटन अवसर पर छह गल्र्स इंटर कॉलेज की छात्राएं रंगारंग कार्यक्रम पेश करेंगी। पांच नवंबर को प्रतियोगिता के समापन और पुरस्कार वितरण समारोह समारोह में प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य बतौर मुख्य अतिथि मौजूद रहेंगे।

टीमों को स्टेडियम तक पहुंचाने के लिए बसों की व्यवस्था

जिला विद्यालय निरीक्षक आरएन विश्वकर्मा ने बताया कि बालक वर्ग की टीमों के ठहरने का इंतजाम सीएवी, कर्नलगंज, एंग्लो बंगाली, प्रयाग महिला विद्यापीठ, सेवा समिति और राजकीय इंटर कॉलेज में किया गया है। अग्रसेन इंटर कॉलेज को आरक्षित रखा गया है। जबकि बालिका वर्ग की टीमों के रुकने के लिए जगत तारन, सेंट एंथोनी, मेरीवाना मेकर, केपी गर्ल्‍स, राजकीय बालिका इंटर कॉलेज और वशिष्ट वात्सल्य पब्लिक स्कूल में प्रबंध किया गया है। टीमों को स्टेडियम तक पहुंचाने के लिए बसों की व्यवस्था की गई है। टीमों के खानपान के इंतजाम के सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने बताया कि उक्त कॉलेजों में खानपान की व्यवस्था के भी निर्देश दिए गए हैं। हालांकि, खिलाडिय़ों के खानपान का इंतजाम टीमें स्वयं करती हैं, उन्हें बजट मिलता है।

दो एडीआइओएस बनाए गए नोडल अधिकारी

डीआइओएस ने बताया कि आयोजन की देखरेख के लिए दो सह जिला विद्यालय निरीक्षक (एडीआइओएस) सोमारू प्रधान और प्रदीप कुमार पांडेय को नोडल अधिकारी बनाया गया है।

ये होंगे इवेंट

100, 200, 400, 800, 1500 और 3000 मीटर की दौड़, ऊंची कूद, लंबी कूद, त्रिकूद , पोल वॉल्ट, शॉट पुट, भाला फेंक, गोला फेंक, चार गुणा 100 मीटर रिले, क्रास कंट्री 5000 मीटर पैदल चाल। 

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस