प्रयागराज, जेएनएन। प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि गंगा की निर्मलता के लिए गंगा यात्रा बड़ा प्रयास है। निश्चित रूप से यह यात्रा गंगा के पुनरुद्धार में सहायक साबित होगी। प्रयागराज से गंगा यात्रा को लेकर अगले पड़ाव को चले डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा ने कई स्थानों पर आयोजित स्वागत समारोह व नुक्कड़ सभा को संबोधित किया।

बोले, हिंदुओं के लिए श्रद्धा और आस्था का प्रतीक हैैं गंगा

डिप्टी सीएम ने कहा कि गंगा ङ्क्षहदुओं के लिए श्रद्धा और आस्था का प्रतीक हैैं। श्रद्धा आधुनिक युग की औषधि हैं। श्रद्धा में जीवन का उल्लास, उत्सव एवं आनंद है। उन्होंने जनमानस से आग्रह किया कि प्रकृति और पर्यावरण को सुरक्षित, संरक्षित एवं पोषित करना समाज का धर्म है। इस दायित्व को पूरा करते हुए नदी के दोनों छोर पर पौधारोपण करना चाहिए। वैसे गंगा किनारे के गांवों में वृहद स्तर पर पौधारोपण के लिए सरकार ने भी अभियान चला रखा है, मगर उसमें आमजन की सहभागिता आवश्यक है। कहा कि गंगा में किसी भी प्रकार की गंदगी न करें। यही नहीं शव भी प्रवाहित न किए जाएं। ऐसे विषयों के प्रति सजग करने के लिए ही गंगा यात्रा निकाली गई है।

अखिलेश को सद्बुद्धि दें गंगा

 प्रदेश के जल शक्ति मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह ने कहाकि गंगा के पवित्र जल को कुछ लोग स्वार्थवश अपवित्र कर रहे हैं। गंगा यात्रा पर सवाल उठाए जाने पर कहाकि गंगा सबका हिसाब करती हैैं। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पाप कर्म कर रहे हैैं, इसका उन्हें दंड मिलेगा। मेरी मां गंगा से प्रार्थना है कि अखिलेश के मन-मस्तिष्क में जो विकार पैदा हो गया है उसे दूर करते हुए उन्हें सद्बुद्धि दें। यह भी कहा कि अगर सपा मुखिया देश की सभ्यता, संस्कृति, गंगा और राष्ट्र के बारे में सोचें तो अच्छा होगा। उन्होंने कहा कि गंगा भारत की जीवन रेखा हैैं, ऐसे में गंगा की बेहतरी के लिए निकाली गई यात्रा पर सवाल उठाना दुर्भाग्यपूर्ण है।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस