प्रयागराज : 192 देशों के 250 डेलीगेट्स भी शुक्रवार को अलौकिक कुंभ के साक्षी बनेंगे। यह विदेशी मेहमान संगम में पुण्य की डुबकी लगाएंगे और फिर आध्यात्मिक व सांस्कृतिक कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। इसमें एशिया, यूरोप, खाड़ी देशों के डेलीगेट्स शामिल होंगे।

विदेश मंत्रालय की टीम तीन प्लेन से मेहमानों को लाएगी
विदेश मंत्रालय की टीम शुक्रवार सुबह 9.30 बजे तीन प्लेन से विदेशी डेलीगेट्स को लेकर बमरौली एयरपोर्ट पहुंचेगी। वहां से शटल बस से अरैल ले जाया जाएगा। फिर विदेशी डेलीगेट्स विश्व सहभागिता क्षेत्र (फ्लैग एरिया) पहुंचेंगे। वहां से वीआइपी घाट से क्रूज से किला घाट पहुंचेंगे। यहां से शटल बसों से वे संगम नोज जाएंगे। स्नान और त्रिवेणी दर्शन-पूजन करेंगे। साथ ही सभी किला घाट से क्रूज से अरैल जाएंगे।

परोसे जाएंगे लजीज व्यंजन
वहां अस्थायी सर्किट हाउस त्रिवेणी संकुल में लंच करेंगे। दोपहर के भोजन में उत्तर से लेकर दक्षिण भारत तक के व्यंजन परोसे जाएंगे। इसके बाद एनसीजेडसीसी में आयोजित आध्यात्मिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। जूना पीठाधीश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरि उन्हें संबोधित करेंगे। इसके बाद शटल बसों से वह एयरपोर्ट जाएंगे और दिल्ली लौट जाएंगे। विदेशी मेहमानों की सुरक्षा के लिए तगड़े इंतजाम किए गए हैं।

ब्रोसानिया हर्जेगोविना के राजदूत पहुंचे किन्नर अखाड़ा
ब्रोसानिया हर्जेगोविना के राजदूत मो. सेंजिक एवं भारत में वहां के पर्यटन विकास परिषद अध्यक्ष प्रकाश बंग ने कुंभ मेला क्षेत्र स्थित किन्नर अखाड़ा के शिविर का भ्रमण किया। किन्नर आर्ट विलेज का भ्रमण कर वहां की व्यवस्था देखी। फिर अखाड़ा की आचार्य महामंडलेश्वर लक्ष्मीनारायण त्रिपाठी से मुलाकात करके किन्नरों को सनातन धर्म से जोड़कर उनका उत्थान करने पर विस्तार से चर्चा की।

देश के किन्नरों का बढ़ा आत्मविश्वास : मो. सेंजिक
मो. सेंजिक ने लक्ष्मीनारायण के प्रयास की सराहना करते हुए बोले, इससे हर देश के किन्नरों का आत्मविश्वास बढ़ा है। कहा कि किन्नर अखाड़ा की लोकप्रियता विदेशों में भी है। इससे किन्नर समाज रचनात्मक कार्यों से जुड़ रहा है। लक्ष्मीनारायण त्रिपाठी ने किन्नर अखाड़ा के गठन से लेकर उसके प्रयाग में जूना अखाड़े के साथ आने की बात बताई। कहा कि प्रयाग में 2020 में लगने वाले माघ मेला की तैयारियां चल रही है। इस दौरान हरिराम द्विवेदी, डॉ. श्यामधर तिवारी, डॉ. सुशील कुमार, प्रो. अशोक कौल, डॉ. मंजरी पांडेय मौजूद रहे।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस