प्रयागराज : अलौकिक और अद्वितीय कुंभ की छटा पूरी दुनिया को आकर्षित कर रही है। शुक्रवार को दुनिया के 192 देशों के लगभग 220 डेलीगेट्स कुंभ की आभा देखेंगे। उन्हें विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह तीन हवाई जहाज से लेकर बमरौली एयरपोर्ट पहुंचेंगे। एयरपोर्ट पर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह स्वागत करेंगे। वहीं विभिन्न राज्यों के कलाकार कार्यक्रमों के माध्यम से अगवानी करेंगे।

 विदेशी डेलीगेट्स शुक्रवार सुबह 9:30 बजे बमरौली एयरपोर्ट पहुंचेंगे। यहां से शटल बसों से वे कुंभ मेला क्षेत्र के अरैल में स्थित विश्व सहभागिता क्षेत्र (फ्लैग एरिया) जाएंगे, जहां 71 देशों के राजनयिकों ने अपने देशों के ध्वज फहराए थे। वहां सुबह 10 से 10.15 बजे तक फोटोग्राफी होगी।

संगम में विदेशी मेहमान लगाएंगे डु‍बकी

जिसके बाद सभी अरैल वीआइपी घाट से क्रूज से किला वीआइपी घाट पहुंचेंगे। वहां से किला जाएंगे, जहां 10:40 से 11:10 बजे तक अक्षयवट दर्शन-पूजन करेंगे। इसके बाद शटल बसों से वे संगम नोज जाएंगे। वहां पावन संगम में पुण्य की डुबकी लगाएंगे। त्रिवेणी की पूजा और आरती भी करेंगे। इसके बाद वे दोपहर 12.20 बजे किला वीआइपी घाट से क्रूज से अरैल जाएंगे। अस्थायी सर्किट हाउस (त्रिवेणी संकुल) में वे लंच करेंगे। दोपहर के भोजन में 56 भोग परोसा जाएगा। उत्तर से लेकर दक्षिण भारतीय व्यंजन उन्हें परोसा जाएगा।

स्वामी अवधेशानंद वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए करेंगे संबोधन

मेलाधिकारी विजय किरन आनंद ने बताया कि दोपहर 1:35 बजे तक सेक्टर 19 स्थित एनसीजेडसीसी के चलो मन गंगा यमुना तीर पंडाल में 1:45 से 1:55 बजे तक जूना पीठाधीश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरि वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए संबोधन करेंगे। इसके बाद दोपहर 1:55 से 2:40 बजे तक सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति देखेंगे। अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मेघालय, मिजोरम व मणिपुर के कलाकार लोकनृत्य व कथक नृत्य पेश करेंगे। विदेशी प्रतिनिधिमंडल 2:40 बजे एनसीजेडसीसी से बमरौली एयरपोर्ट जाएगा, वहां से वायुयान द्वारा दिल्ली रवाना होंगे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस