प्रयागराज, जागरण संवाददाता। दीपावली का पर्व निकट है, ऐसे में सभी को रुपये की जरूरत है। कोई बैंक से रुपये निकालकर खरीदारी कर रहा है तो कई एटीएम से कैश निकाल रहा है। अगर आप एटीएम बूथ पर जाकर पैसा निकालने का प्रयास करते हैं और सफलता नहीं मिलती तो परेशान न हों। और न ही आसपास मौजूद लोगों से मदद लें, क्‍योंकि उनमें से साइबर क्रिमिनल भी हो सकते हैं। ऐसे शातिर युवक आपकी सहायता के बहाने एटीएम कार्ड बदलकर आपके बैंक खाते से रकम उड़ा सकते हैं। प्रयागराज के शिवकुटी में एक शिक्षक और जार्जटाउन में रिटायर कर्मचारी समेत कई के साथ ऐसी घटना हो चुकी है। जब उन्होंने अनजान युवकों से मदद ली और फिर उनके खाते से पैसा निकल गया।

केस-1

शिवकुटी निवासी सहायक अध्यापक धर्मराज पटेल तेलियरगंज स्थित एक्सिस बैंक के एटीएम बूथ पर पैसा निकालने गए। जब पैसा नहीं निकला तो वहां मौजूद दो युवकों ने मदद के बहाने कार्ड लेकर स्वाइप किया, फिर भी पैसा नहीं निकला। वहां से जाने के बाद धर्मराज के मोबाइल पर मैसेज आया तो पता चला कि खाते 25 हजार रुपये निकल गए। एटीएम कार्ड भी बदल गया है।

केस-2

जार्जटाउन में रहने वाले एक रिटायर्ड कर्मचारी कुछ दिन पहले यूनियन बैंक के एटीएम बूथ पर गए। वह कार्ड स्वाइप करके पैसा निकाल रहे थे लेकिन पैसा नहीं निकला। तभी पीछे खड़ा एक युवक आगे आया और कहा कि वह उनकी मदद करता है। तब उसने कार्ड लिया और मशीन में डालकर बोला कि अभी सर्वर डाउन है। कुछ देर बाद उनके खाते से रकम निकल गई।

एटीएम बूथों के पास शातिरों से रहें सावधान

साइबर शातिर एक बार फिर एटीएम बूथ के आसपास मंडराने लगे हैं। वह सीधे, सज्जन और जल्दबाजी में रहने वाले लोगों को खासतौर पर निशाना बनाते हैं। देखने में शातिर एक सामान्य व्यक्ति और अच्छे भले लगते हैं, मगर ऐसा नहीं है। उनका पहनावा देखकर जल्दी कोई शख्स संदेह नहीं करेगा, मगर जब वह एटीएम कार्ड बदलकर रुपये निकाल लेते हैं तो तब लोग परेशान होते हैं। कुछ माह पहले पुलिस ने ऐसी ही कारस्तानी करने वाले कई युवकों को पकड़ा था। हालांकि कार्रवाई धीमी पड़ने के कारण एक बार फिर वह सक्रिय हो गए हैं। विशेषकर त्योहार का समय आने के चलते वह ठगी का शिकार बनाने के लिए एटीएम बूथ के आसपास मौजूद रहकर कान में मोबाइल लगाए रहते हैं, ताकि किसी को शक न हो।

शातिरों से ऐसे करें बचाव

- एटीएम से पैसा की निकासी न होने पर वहां मौजूद सुरक्षा गार्ड की मदद ले सकते हैं।

- अनजान व्यक्ति को एटीएम कार्ड बिल्कुल न दें और उन पर भरोसा भी न करें।

- एक एटीएम से पैसा आहरित न होने की दशा में दूसरा मशीन का उपयोग करें।

- पैसा निकालते समय अपना कार्ड नंबर और पिन नंबर किसी को न दिखाएं।

एसपी क्राइम बोले- किसी के झांसे में आकर गोपनीय जानकारी शेयर न करें

एसपी क्राइम आशुतोष शुक्‍ल कहते हैं कि मदद के बहाने कार्ड बदलकर पैसा उड़ाने वालों से लोगों को सतर्क रहना चाहिए। किसी के झांसे में आकर गोपनीय जानकारी शेयर न करें। ऐसे लोगों पर पुलिस की भी नजर है, जिनकी गिरफ्तारी का प्रयास किया जाएगा।

Edited By: Brijesh Srivastava