जासं, इलाहाबाद : सिविल लाइंस में रहने वाली एक महिला को कमरे में बंधक बनाकर दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। कोर्ट के आदेश पर सिविल लाइंस पुलिस ने कूपर रोड निवासी संतोष सिंह उर्फ बबलू और गुड्डी उर्फ मंजू के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज की। हालांकि पुलिस घटना को संदिग्ध बता रही है।

घटना 20 जुलाई 2018 की है। पीड़िता का आरोप है कि उस दिन पति शहर से बाहर थे। तभी शराब के नशे में संतोष व गुड्डी घर में घुस आए। संतोष ने जबरन शारीरिक शोषण किया और गुड्डी उन्हें धमकाती रही। घटना के बाद जब पीड़िता ने पुलिस से मदद की गुहार लगाई, लेकिन सुनवाई नहीं हुई। इससे परेशान होकर महिला ने अदालत का दरवाजा खटखटाया। फिलहाल इंस्पेक्टर सिविल लाइंस शिवमंगल सिंह का कहना है कि अदालत के आदेश पर मुकदमा लिखा गया है। उनके पास इस तरह की तहरीर नहीं आई थी। सच्चाई का पता लगाकर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

पति पर अप्राकृतिक दुष्कर्म का केस

इलाहाबाद : सिविल लाइंस थाने में एक महिला ने अपने कारोबारी के खिलाफ अश्लील वीडियो दिखाकर अप्राकृतिक दुष्कर्म करने, मारपीट और गर्भपात कराने के आरोप में रिपोर्ट दर्ज कराया है। पुलिस ने पति को हिरासत में ले लिया है। मिंटो रोड निवासी महिला का आरोप है कि इलेक्ट्रानिक उपकरण की सप्लाई करने वाले उसके पित अय्याश किस्म के हैं। अप्राकृतिक दुष्कर्म का विरोध करने पर मारपीट करते हैं। पुलिस रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच कर रही है। महिला की शिकायत पर पुलिस आरोपित पति को गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है।

Posted By: Jagran