प्रयागराज, जेएनएन : घरों में पले जानवर हो या फिर दुधारू मवेशी, इनकी मौत के बाद शव को खुले मैदान में नहीं छोडऩा होगा न ही जमीन में गाडऩे या नदी में बहाने की जरूरत पड़ेगी। नगर निगम पशुओं के लिए शवदाह गृह बनवाने जा रहा है। इसके लिए जमीन की तलाश भी कर ली गई है। पशुओं के शवदाह गृह निर्माण के लिए लगभग 1.75 करोड़ रुपये का बजट तैयार किया गया है। इसका निर्माण जल्द शुरू होगा।

शवदाह गृह के लिए ककरहा घाट के करैलाबाग वाले हिस्से में तथा शहर के बाहर नैनी और फाफामऊ में जमीन देखी गई है। महापौर अभिलाषा गुप्ता नंदी ने बताया कि ककरहा घाट के पास काफी जमीन ऐसी है जिस पर पशु शवदाह गृह बनाया जा सकता है। पहले चरण में यहीं शवदाह गृह बनवा जाएगा। इसके बाद शहर के बाहर भी निर्माण कराया जाएगा। पर्यावरण विभाग से अनुमति मिलने के बाद ही निर्माण कार्य शुरू होगा।

अवस्थापना निधि में कितने होंगे काम आज होगा तय :

 नगर निगम की अïवस्थापना निधि से शहर में कहां और कितने काम होंगे, यह गुरुवार को होने वाली बैठक में तय होगा। महापौर अभिलाषा गुप्ता नंदी की अध्यक्षता में बैठक दिन में 12 बजे होगी। इसमें नगर निगम परिसर में बनने वाली अन्नपूर्णा कैंटीन (योगी भोजनालय) तथा पशु शवदाह गृह के लिए बजट को मंजूरी मिल सकती है। इसके साथ कुछ इलाकों में नए नालों का निर्माण, नालियों व गलियों की मरम्मत समेत मोहर्रम, नवरात्र, दशहरा आदि के मद्देनजर होने वाले कामों के लिए भी बजट पर भी सहमति बनेगी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस