प्रयागराज, जेएनएन। इलाहाबाद हाई कोर्ट में आज बरेली के साक्षी मिश्रा व अजितेश कुमार की याचिका की सुनवाई से पहले ही गेट नंबर तीन से एक दंपती के अपहरण से सनसनी फैल गई। प्रयागराज में हाई कोर्ट के गेट के बाहर से दंपती का अपहरण करने वालों को फतेहपुर से गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस की सक्रियता से अपहरण करने वालों को फतेहपुर में पकड़ा गया है। युगल को भी इनकी गिरफ्त से छुड़ा लिया गया है। किशोरी के पिता सहित छह लोगों के खिलाफ मुकदमा कैंट थाने में दर्ज किया गया है। 

बरेली विधायक के बेटी के सुर्खियों  में छाए मामले के बीच मुरादाबाद से हाईकोर्ट, प्रयागराज आए प्रेमी युगल का दिनदहाड़े स्कार्पियो सवार लोगों ने अपहरण कर लिया। युवक के परिजनों ने इसके बारे में प्रयागराज पुलिस को सूचना दी सनसनी फैल गयी। परिजनों ने पुलिस को बताया कि प्रेमी युगल को चेयरमैन लिखी स्कार्पियों से अगवा किया गया है। 

प्रेमी युगल के अपहरण की सूचना पर प्रयागराज, कौशांबी व फतेहपुर पुलिस को अलर्ट किया गया। सोमवार सुबह दस बजे जैसे ही इसके बारे में खागा कोतवाली पुलिस को सूचना मिली, भारी पुलिस फोर्स हाइवे किनारे विभिन्न स्थानों पर लग गया। कौशांबी-फतेहपुर जिले की सीमा पर स्कार्पियो के प्रवेश करते ही पुलिस ने पीछा किया। कटोघन टोल प्लाजा में पुलिस फोर्स ने गाड़ी रुकवाते हुए प्रेमी युगल को छुड़ाकर स्कार्पियो चालक सहित चार अपहर्ताओं को गिरफ्तार किया।

मुरादाबाद निवासी शमीम व अमरोहा की रहने वाली रुबी दोनों एक-दूसरे के प्रेम करते हैं। सोमवार को प्रेमी युगल उच्च न्यायालय गए थे, तभी कोर्ट के बाहर से युवती के पिता खुर्शीद अहमद व चाचा निजामुद्दीन सहित अन्य लोगों ने उन्हें अगवा कर स्कार्पियों में डाल लिया। पुलिस ने प्रेमी युगल व अपहर्ताओं को पकड़कर खागा कोतवाली में रखा है। कोतवाली पुलिस उच्चाधिकारियों के आने पर मामले का खुलासा करने की बात कह रही है। डीआईजी, एडीजी रेंज इलाहाबाद आ रहे हैं। पुलिस अधीक्षक रमेश मौके पर पहुंच चुके हैं।

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि पीले रंग की एसयूवी का नम्बर यूपी 82 ही दिखा और उसके पीछे चेयरमैन लिखा था। गेट नंबर तीन से दंपती कोर्ट परिसर में दाखिल होने जा रहे थे। आज कोर्ट के बाहर दंपती को बंदूक दिखाकर अपहरण किया गया। यह दोनों प्रेम विवाह करने के बाद हाई कोर्ट में अपनी सुरक्षा की मांग को लेकर आए थे। इससे पहले दंपती हाई कोर्ट के अंदर जा पाता, गेट के बाहर इंतजार कर रहे बदमाशों ने उनका अपहरण कर लिया। मौके पर पुलिस पहुंची और जांच शुरू कर दी। प्रयागराज के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजी) एसएन साबत ने कहा कि अपहरणकर्ता सशस्त्र थे। हमने गाड़ियों की चेकिंग का आदेश जारी किया है। यहां पर संदिग्ध वाहनों को एक-दो जगहों पर रोका गया है। मैं वहां जा रहा हूं। इसी बीच फतेहपुर में एक गाड़ी को रोका गया तो उसमें से लोग भागने लगे। पुलिस की टीम ने उनको दबोच लिया। 

गाडी मांगकर ले गया था

चेयरमैन लिखी बिजनौर नम्बर की गाड़ी किरतपुर नगर पालिका के चेयरमैन मन्नान के भाई फैजान की है। फैजान के परिचित अमरोहा निवासी मतबूल अहमद यह गाडी मांगकर ले गया था। बताया जा रहा है कि मतबूल अहमद प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के टिकट पर अमरोहा से लोकसभा चुनाव लड़ा था।

पिता समेत छह पर अपहरण का केस, गिरफ्तार

हाईकोर्ट के बाहर से किशोरी और उसके प्रेमी शमीम को अगवा किए जाने के मामले में किशोरी के पिता सहित छह लोगों के खिलाफ मुकदमा कैंट थाने में दर्ज हो गया। देर रात कैंट थाने की पुलिस फतेहपुर के कल्याणपुर थाने से सभी आरोपितों को लेकर प्रयागराज पहुंची। किशोरी और शमीम को भी कैंट थाने लाया गया है। शमीम के खिलाफ अमरोहा में मुकदमा दर्ज है, ऐसे में उसे व किशोरी को अमरोहा पुलिस के हवाले किया जाएगा। मंगलवार को अमरोहा की पुलिस प्रयागराज पहुंचेगी।

हाईकोर्ट सुरक्षा में तैनात दारोगा अरविंद सिंह ने अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराई। उन्होंने रिपोर्ट लिखाई है कि उनकी ड्यूटी गेट नंबर तीन पर थी। स्कार्पियो सवार कुछ लोग युवक-युवती को अगवा कर ले गए। इस संबंध में थाने में जानकारी दी गई। स्कार्पियो के फतेहपुर में पकड़े जाने पर साफ हो गया कि लड़की के पिता ने दोनों को अगवा किया। एसपी सिटी बृजेश श्रीवास्तव के मुताबिक, कैंट थाने की पुलिस दोपहर में ही कल्याणपुर थाने पहुंच गई थी। वहां लिखापढ़ी के बाद सभी को देर रात कैंट थाने लाया गया। अपहरण के आरोपितों को जेल भेजा जाएगा।

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस