इलाहाबाद : वंशिका और विजय के मौत की तफ्तीश में जुटी झूंसी पुलिस को नई कहानी मिली है। पता चला है कि विजय ने अपने दाहिने हाथ की एक अंगुली को काट लिया था। 13 जुलाई 2018 को वंशिका के वाट्सएप पर कटी हुई अंगुली की तस्वीर भेजी थी। इसी दिन विजय ने समाचार पत्र में छपी एक खबर भी वंशिका को वाट्सएप पर भेजा था, जिसका शीर्षक था प्रेम में हताश इंजीनिय¨रग छात्र ने गोली मारकर दी जान। मरने से पहले भेजा प्रेमिका को संदेश।

इस आधार पर पुलिस यह मान रही कि विजय यादव जुनूनी था और उसने वंशिका से तकरार होने पर ही अपने हाथ की एक अंगुली काटी होगी। मंगलवार को पुलिस ने जब विजय के मोबाइल की गैलरी व वाट्सएप चेक किया तो उसमें कई तस्वीरें मिलीं। इसमें वंशिका और विजय के शादी के बंधन में बंधे होने की भी फोटो है। इसके अलावा एक साथ अलग-अलग स्थान पर घूमने समेत कई अन्य तरह की फोटो है। पुलिस अभी तक वंशिका के मोबाइल का लॉक नहीं खुलवा सकी है। माना जा रहा है कि उसके मोबाइल से भी कुछ तथ्य मिल सकते हैं। वहीं, सनसनीखेज घटना के कई दिन बाद भी दोनों के मोबाइल की कॉल डिटेल रिपोर्ट नहीं मिल सकी है। इस रिपोर्ट से पुलिस यह पता लगाएगी कि घटना वाले दिन किसने, किसको पहले कॉल किया था। उसके आधार पर तय होगा कि किसने-किसको बुलाया था। सीडीआर आने के बाद स्थिति और साफ हो सकेगी। हालांकि घटना वाले दिन विजय के एक दोस्त ने पुलिस को यह भी बताया था कि मकान मालिक के घर में आम काटते वक्त उसकी अंगुली कटी थी, लेकिन वंशिका को कटी हुई अंगुली की तस्वीर भेजने से पुलिस उसके बयान पर मुतईन नहीं है। कुछ दिन पहले न्याय नगर स्थित दुर्गा मंदिर परिसर में वंशिका व विजय की गोली लगने से मौत हुई थी। वंशिका की मां के बयान पर मामा ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि विजय ने वंशिका की हत्या कर खुद को गोली मार लिया। इससे दोनों की मौत हो गई। जबकि विजय के भाई ने वंशिका की मां पर हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप