प्रयागराज,जेएनएन : उन्नाव रेप पीडि़ता के समर्थन में न्याय दिलाने को लेकर डीएम कार्यालय पर आयोजित कांग्रेसियों का उपवास फ्लाप साबित हुआ। सुबह नाश्ता कर उपवास का हाईवोल्टेज ड्रामा करने वाले कई कांग्रेसी दोपहर में चाय की चुस्की लेते नजर आए, जबकि कुछ ऐसे भी कांग्रेसी रहे जो बैठने के बाद अपनी जगह से उठे ही नहीं।

दरअसल, उन्नाव कांड के विरोध में कांग्रेसियों का पूर्व नियोजित कार्यक्रम था। इसके तहत दिनभर भूखे पेट उन्हें डीएम दफ्तर के बाहर बैठना था। पूछने पर कई कांग्रेसियों ने खुद ही बताया कि वह घर से नाश्ता और भोजन करने के बाद निकले। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव बाजीराव खाड़े के नेतृत्व में जुटे कांग्रेसी काफी देर तक तो बैठे रहे। इसके बाद घड़ी की सुई बढऩे के साथ वह भी इधर-उधर टहलने लगे। दोपहर में कई कांग्रेसी कचहरी में आवश्यक काम बताकर चाय-पान की दुकान पर नजर आए। इनमें कई जिला कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ पदाधिकारी थे। जबकि, कई ऐसे पदाधिकारी थे, जो उपवास के दौरान पानी पीते नजर आए। सूत्रों की मानें तो राष्ट्रीय सचिव बाजीराव खाड़े खुद ऐसे लोगों को चिन्हित कर रहे थे। चर्चा तो इस बात की भी है कि ऐसे पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं की सूची तैयार कर इन पर कार्रवाई भी की जाएगी। इसके अलावा कई ऐसे पदाधिकारी भी थे, जो राष्ट्रीय सचिव के साथ ही अंतिम में उठे। उपवास के बाद राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट को सौंपा गया। इस दौरान जिलाध्यक्ष अनिल दुबे, नफीस अनवर, मुकुंद तिवारी, फुजैल हाशमी, किशोर वाष्र्णेय, सत्या पांडेय, जावेद उर्फी, हसीब अहमद आदि रहे।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021