प्रयागराज, जेएनएन। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा के सात जून को प्रयागराज आने की संभावना है। उनका पदाधिकारियों के साथ बैठक कर हार पर मंथन करने के साथ ही कुछ कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर सकती हैं।

 प्रियंका स्वराज भवन में रात्रि निवास करेंगी

पार्टी सूत्रों की मानें तो प्रियंका सात जून को देर शाम अपने परनाना पं. जवाहर लाल नेहरू की जन्मस्थली स्वराज भवन पहुंचेंगी। वहां भोजन के बाद रात्रि विश्राम करेंगी। इसके बाद आठ जून को सुबह वह पदाधिकारियों के साथ बैठक करेंगी। वह इलाहाबाद और फूलपुर संसदीय सीट पर साढ़े तीन दशक से कांग्रेस को लगातार मिल रही हार को लेकर पदाधिकारियों से मंथन करेंगी। बंजर पड़ चुकी कांग्रेस की जमीन को उपजाऊ बनाने के लिए कोई नई रणनीति भी बना सकती हैं। सुगबुगाहट तो इस बात भी है कि वह कुछ पदाधिकारियों की क्लास भी लगा सकती हैं। 

पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल पदाधिकारियों की शिकायत हुई थी

दरअसल, लोकसभा चुनाव से पहले प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर से इस बात की शिकायत की गई थी कि कुछ पदाधिकारी पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त हैं। राजबब्बर को कुछ तस्वीरें भी दिखाई गई थीं। इसके बाद से उन पदाधिकारियों पर पार्टी के शीर्ष नेतृत्व लगातार नजर बनाए थे। हालांकि, चुनाव के दौरान कोई कार्रवाई नहीं की गई।

मांगी गई थी सूची

लोकसभा चुनाव में दोनों सीटों पर करारी हार मिलने के बाद शीर्ष नेतृत्व से चुनाव के दौरान पार्टी के लिए पसीना बहाने वालों और पार्टी विरोधी गतिविधियों में संलिप्त होने वालों की सूची मांगी गई थी। जिला कांग्रेस कमेटी की ओर से ऐसे लोगों की सूची भेजी गई थी। चर्चा है कि पसीना बहाने वालों की प्रियंका पीठ थपथपा सकती हैं। साथ ही अन्य पर कार्रवाई कर सकती हैं। 

बोले कांग्रेस के जिलाध्यक्ष 

जिलाध्यक्ष अनिल द्विवेदी ने बताया कि प्रियंका का कार्यक्रम सात जून को प्रस्तावित है, लेकिन अभी स्थिति स्पष्ट नहीं है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Brijesh Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप