प्रयागराज, जेएनएन। कोविड महामारी से बचाव के लिए टीकाकरण बहुत जरूरी है। यही वह उपाय है जिसके सहारे कोरोना वायरस का खात्मा किया जा सकता है। शुरू में लोग टीका लगवाने से घबराए, तमाम तरह की उल्टी-सीधी अफवाहों पर भी लोग ध्यान देकर इंकार करते रहे लेकिन धीरे-धीरे सब समझ गए कि टीका है जरूरी। इससे कोई नुकसान नहीं होता और न तो कोई साइड इफेक्ट है, बल्कि कोरोना महामारी को समाप्त करने के लिए हर उम्र के लोगों के लिए टीका लगवाना ही सबसे बेहतर उपाय है। अब प्रयागराज से लेकर कौशांबी और प्रतापगढ़ में हर जिले में रोज लोग खुद टीका लगवाने के लिए आगे आ रहे हैं। किसी गांव में कोई गलतफहमी की वजह से मना करता है तो समझाने पर वह भी राजी हो जाता है। मंगलवार दोपहर प्रतापगढ़ में सीएचसी गौरा इलाके के गांव में कुछ लोगों ने टीका लगाने से मना किया मगर फिर जब उसके फायदे जान गए तो खुशी से डोज लगवा ली। 

पहले इंकार फिर जरूरी जानकर लगवा ली वैक्सीन

मसला कुछ यूं है। प्रतापगढ़ में सीएचसी गौरा क्षेत्र के महमदपुरपाली गांव में कोरोना टीका लगवाने से कुछ लोगों ने मना कर दिया।  उन्हें टीका को लेकर कुछ डर बना था। स्थानीय चिकित्सा कर्मियों के जरिए प्रशासन तक बात पहुंची तो इसे गंभीरता से लिया गया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा.  एके श्रीवास्तव सहित जिले के स्वास्थ्य विभाग व यूनिसेफ के अधिकारी दोपहर में महमदपुर पाली गांव पहुंच गए। उन्होंने लोगों से बात की और उन्हें समझाया कि टीका से नुकसान नहीं बल्कि फायदा है। तब दोपहर बाद लोग टीका लगवाने के लिए टीकाकरण बूथ पर पहुंचे । सीएमओ ने बूथ पर भी ग्रामीणों से बात की साथ ही जागरूकता में लगी टीम को भी निर्देशित किया।

Edited By: Ankur Tripathi