प्रयागराज, जेएनएन। भले ही अभी बारिश का मौसम नहीं आया है, लेकिन उस समय नाली और नाले जाम न हों, इसकी कवायद अभी से शुरू हो जानी चाहिए। नगर निगम को शहर के सभी नालों की सफाई करवानी है। खुले नालों की सफाई तो हो रही है, लेकिन ढके नालों पर बहुत जोर नहीं दिया जा रहा है। बारिश का सीजन शुरू होने से पहले अगर ढंके नालों की सफाई नहीं कराई गई तो शहर को डूबने से कोई नहीं बचा सकता।
 निचले इलाकों में जलभराव न हो, इसके लिए नगर निगम जो तैयारी करके चल रहा है। उससे लोगों की परेशानी कम नहीं होगी। कुंभ मेले के दौरान शहर में तमाम इलाकों में सड़कों को चौड़ा करने के लिए वहां के नालों को ढंक दिया गया। इसमें प्रमुख रूप से सोहबतियाबाग, सीएमपी, नवाब युसूफ रोड, हरी मस्जिद, जानसेनगंज, स्वामी विवेकानंद रोड, महात्मा गांधी मार्ग, सरदार पटेल मार्ग, बालसन चौराहा, स्टेनली रोड समेत तमाम स्थानों पर नालों के ऊपर स्लैब डाल दिया गया।
 शहर में अब कुल 45 नाले ऐसे हैं, जो ढंके हुए हैं। उनकी अंदर से सफाई कराना मुश्किल काम है। नालों की सफाई आगे और पीछे से करके छोड़ने पर बारिश में मोहल्लों में जलभराव होना तय है। अधिकारियों का कहना है कि नालों की आगे और पीछे से सफाई होने पर पानी के दबाव से उसमें फंसी चीजें निकल जाती हैं। नाला अंदर से चोक नहीं होता है।

नालों की सफाई तेज करने का निर्देश
नालों की सफाई का काम अपेक्षानुरूप न चलने पर नगर आयुक्त डॉ. उज्ज्वल कुमार ने नाराजगी जाहिर की। नगर निगम के स्वास्थ्य विभाग, केंद्रीय कर्मशाला और जन कार्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्हें निर्देश दिया है कि 15 जून तक सभी नालों की सफाई हो जानी चाहिए। इसके लिए जितने अतिरिक्त कर्मचारियों की जरूरत है। उतने को अतिशीघ्र लगाया जाए। नालों की अच्छे से सफाई हो। मलबा जल्दी हटाया जाए। जहां पर काम में लापरवाही होगी, वहां पर संबंधित कर्मचारी और अधिकारी के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

पंपों की टेस्टिंग के लिए नहीं उठाया कदम
नागरिक संघर्ष मोर्चा के बैनर तले पूर्व पार्षद शिवसेवक सिंह, पार्षद आनंद घिल्डियाल ने बक्शी बांध पंपिंग स्टेशन अल्लापुर और मोरीगेट पंपिंग स्टेशन दारागंज का औचक निरीक्षण किया। दोनों पंपिंग स्टेशनों के अंदर लगे पंपों की टेस्टिंग के लिए अभी तक कोई कदम नहीं उठाया गया है। एसपीएस के पंपों के लिए बने हौद में सिल्ट भरी हुई है। उन्होंने जिला प्रशासन और नगर निगम से मांग की है कि बारिश से पहले सभी एसपीएस की टेस्टिंग हो जानी चाहिए, ताकि उस समय कोई दिक्कत न हो।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप