प्रयागराज,जेएनएन। पंडित नेहरू की पुण्‍यतिथि पर बुधवार को बालसन चौराहे पर स्थित उनकी प्रतिमा पर माल्‍यार्पण करने पहुंचे कांग्रेसियों और पुलिस से नोंकझोक हो गई। पुलिस ने उन्‍हें शारीरिक दूरी के पालन का हवाला देते हुए प्रतिमा तक जाने से रोका। इस पर कार्यकर्ताओं की पुलिस से कहासुनी होने लगी। कांग्रेस कार्यकर्ता शारीरिक दूरी का पालन करते हुए प्रतिमा पर माल्‍यार्पण करने पर अडिग थे। सूचना पर कई थानों की फोर्स और पुलिस अफसर पहुंच गए। हालांकि तब तक कांग्रेस कार्यकर्ता माल्‍यार्पण कर जा चुके थे। 

पंडित नेहरू ने देश को आजादी दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी

देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की 56वीं पुण्यतिथि पर उनके पैतृक आवास आनंद भवन पर पहुंचे कांग्रेसियों ने फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए उनके चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित की। जिला और शहर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने एक स्वर में कहा कि नेहरू जी ने देश को आज़ादी दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी।  आधुनिक भारत के निर्माता जवाहरलाल नेहरू थे। लेकिन वर्तमान सरकार नेहरू जी के प्रति लोगो में नफरत बांटने का काम कर रही है। वहीं, आनंद भवन में पं नेहरू की चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करने के बाद कांग्रेसियो ने बालसन चौराहा स्थित उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण करने पहुंचें थे। तभी वहां मौजूद पुलिस कर्मियों ने उनको वापस लौटने को कहा। इस पर कांग्रेसियो की पुलिस से नोकझोंक भी हुई। लेकिन कांग्रेसियो ने शारीरिक दूरी बनाते हुए प्रतिमा पर माल्यार्पण करने की बात पर अड़ गये। कुछ ही देर में मौके पर भारी पुलिस फोर्स पहुँच गई तब तक कांग्रेसी नेहरू की प्रतिमा पर माल्‍यार्पण कर वहां से जा चुके थे ।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस