प्रयागराज, जेएनएन। प्रदेश के प्रमुख सचिव भुवनेश्वर कुमार मंगलवार को यूपी के कौशांबी जनपद पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कौशांबी ब्लाक के ऐतिहासिक स्थल का निरीक्षण कर वहां का हाल जाना। कौशांबी खास में भ्रमण कर प्रमुख सचिव ने बौद्ध सर्किट के बारे में जानकारी ली और अधिकारियों को निर्देशित किया।

दुग्ध विकास, मत्स्य समन्वय तथा पशुधन एवं जनपद के लिए नोडल  अधिकारी भुवनेश्वर कुमार प्रमुख हैं। उन्होंने मंगलवार को ऐतिहासिक स्थल कौशांबी खास का भ्रमण किया। इस दौरान सर्वप्रथम कंबोडिया बौद्ध मंदिर गए। वहां के पुजारी (भंते)चंदेन ने मंदिर व बौद्ध धर्म के बारे में उन्हें जानकारी दी। उसके बाद वे कौशांबी किला, अशोक स्तम्भ देखने पहुंचे। वहां पुरात्व सर्वेक्षण के परिचारक पारसनाथ दुबे ने अशोक स्तम्भ व आसपास के क्षेत्र के बारे में उन्हें जानकारी दी। उन्होंने बताया कि भगवान बुद्ध घोषिता राम सेठ के घोषिता राम बिहार में चतुर्मास बिताया था। जैन धर्म के चौथे तीर्थंकर पाश्र्वनाथ का जन्म स्थान भी है।

प्रमुख सचिव ने घोसिताराम, राजप्रसाद का किले का भ्रमण किया और किले मे चल रहे मरम्मत कार्य पर संतुष्टि जताई। उन्होंने कहा कि वह 18 साल पहले यहां आए थे। तब से आज बहुत कुछ बदलाव देखने को मिला। यहां विकास का दायरा बढ़ हुआ है। ऐतिहासिक स्थल की हकीकत जाना और आश्वासन दिया कि जो भी यहां के लिए प्रोजेक्ट तैयार है उन्हेंं जल्द से जल्द गति दी जाएगी।

इस अवसर पर पशु चिकित्साधिकारी आरके सिंह, सदर एसडीएम राजेश चंद्रा, सदर नायब तहसीलदार, भानु प्रताप सिंह, डिप्टी डॉयरेक्टर पर्यटन विभाग दिनेश कुमार, कौशांबी कोतवाल हेमराज सरोज, क्षेत्रीय लेखपाल कमलेश कुमार, सुरेश कुमार गौतम, कुलदीप दुबे एवं अन्न कर्मचारी उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस