प्रयागराज, जागरण संवाददाता। फीस वृद्धि के विरोध में हंगामा करने, जुलूस निकालने और तालाबंदी करने के मामले में इलाहाबाद विश्वविद्यालय के 200 से अधिक छात्रों के खिलाफ केस दर्ज हुआ है। कर्नलगंज थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है। विश्वविद्यालय के चीफ प्राक्टर प्रोफेसर हर्ष कुमार की तहरीर पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करने की कार्रवाई की है।

विश्‍वविद्यालय के चीफ प्राक्‍टर ने केस दर्ज कराया : इलाहाबाद विश्‍वविद्यालय के चीफ प्राक्टर प्रोफेसर हर्ष कुमार की ओर से पुलिस को दी गई शिकायत में कहा गया है कि फीस वृद्धि के विरोध में छात्रों ने विश्वविद्यालय परिसर में बखेड़ा किया। कुछ दिन पहले छात्र हंगामा करते हुए गैस सिलेंडर लेकर छत पर चले गए थे और आग लगाकर कूदने की धमकी दी थी। इससे शैक्षणिक वातावरण पर व्यापक असर पड़ा और शांति व्यवस्था भंग हुई। इस घटना में सत्यम कुशवाहा, आदर्श भदौरिया, आयुषी प्रियदर्शी, अजय सिंह, आशुतोष पटेल, जितेंद्र कुमार सहित डेढ़ सौ छात्र शामिल थे।

छात्रों पर मुख्‍य द्वार पर तालाबंदी करने का आरोप : चीफ प्राक्‍टर का आरोप है कि कतिपय छात्रों ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय में मुख्य द्वार पर ताला भी लगा दिया था। इससे परिसर में शांतिपूर्ण तरीके से चल रही कक्षाएं प्रभावित हुई और शिक्षकों को आने जाने में परेशानी हुई।

कर्नलगंज इंस्‍पेक्‍टर बोले- चीफ प्राक्‍टर ने दो मुकदमे दर्ज कराए हैं : इस संबंध में इंस्पेक्टर कर्नलगंज राममोहन राय का कहना है इलाहाबाद विश्‍वविद्यालय के चीफ प्राक्टर प्रोफेसर हर्ष कुमार की ओर से दो मुकदमे दर्ज कराए गए हैं। पहली शिकायत के आधार पर 12 नामजद व 150 अज्ञात और दूसरी तहरीर पर पांच नामजद 50 अज्ञात छात्रों के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत किया गया है। जांच के बाद विधिक कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Brijesh Srivastava

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट