प्रयागराज, जेएनएन। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के राष्‍ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्र आज कौशांबी में रहेंगे। बसपा की ओर से ओसा स्थित पार्टी कार्यालय में आयोजित प्रबुद्धजन सम्मेलन का आयोजन किया गया है। इसी सम्मेलन में बसपा के राष्‍ट्रीय महासचिव शामिल होंगे। माना जा रहा है कि इस सम्‍मेलन के माध्यम से बहुजन समाज पार्टी ब्राह्मणों को अपने पाले में करने की कोशिश करेगी। 

बसपा महासचिव ने लिया गंगा और हनुमान जी से आशीर्वाद

बसपा के राष्‍ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्र सोमवार को प्रयागराज आए थे। यहां के सैदाबाद में ब्राह्मण विचार गोष्‍ठी में शामिल हुए थे। ब्राह्मण गोष्‍ठी के माध्‍यम से उन्‍होंने अगले विधानसभा चुनाव के पत्‍ते भी खोले थे।  मिशन 2022 की तैयारी के संबंध में भी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को पाठ पढ़ाया था। 

हनुमान जी का किया दर्शन

बसपा महासचिव सतीश चंद्र मिश्र ने त्रिवेणी संगम के बांध स्थित हनुमान मंदिर भी गए। वहां लेटे हनुमान जी का दर्शन और पूजन किया। इस दौरान वे वहां करीब आधे घंटे रहे। इस दौरान अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने आरती कराई। उसके बाद सतीश चंद्र मिश्र अरैल तट पर जय श्री महाकाल सेवा ट्रस्ट के गंगा आरती में शामिल हुए। 

बसपा नेता भाजपा पर बरसे थे

उन्होंने भाजपा को दोषी ठहराते हुए कहा कि ब्राह्मण और गंगा दोनों खतरे में है। बसपा सरकार में दोनों के कल्याण का काम हुआ है। कार्यक्रम में पहुंचते ही वेदपाठी ब्राह्मणों ने मंत्रोच्चार के बीच जनेऊ पहनकर स्वागत किया। ट्रस्ट के महासचिव रवि पाठक ने उन्हें स्मृति चिह्न दिया। कार्यक्रम में शिव शरण शुक्ल, रवि चौबे, मनोज पांडेय, प्रदीप तिवारी, मो. सिद्दीकी, सानू पंकज, पंडित सुभाष ओझा, रवि मिश्र आदि लोग मौजूद रहे।

Edited By: Brijesh Srivastava