प्रयागराज, जेएनएन। भारतीय जनता पार्टी की उपाध्यक्ष उमा भारती ने कहा कि पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) जल्द भारत का होने वाला है। पीओके अपना होते ही फिर से भारतीयों का मस्तक एक बार और ऊंचा होगा। यह भी कहा कि एनआरसी पूरे देश में लागू होगा। मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मोतीलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के प्रेक्षागृह में गुरुवार को भाजपा के राष्ट्रीय एकता अभियान के तहत आयोजित एक राष्ट्र एक संविधान विषयक गोष्ठी को संबोधित कर रहीं थीं।

अनुच्छेद 370 की समाप्ति डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी को सच्ची श्रद्धांजलि

भाजपा नेता उमाभारती ने केंद्र सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को समाप्त करने के कदम को डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी को सच्ची श्रद्धाजलि बताया। बोलीं इससे डॉ. भीमराव आंबेडकर जैसे महापुरुषों का सपना भी साकार हुआ है। कहा कि अनुच्छेद 370 अलगाववाद, आतंकवाद तथा सीमा पार से भारत के विरुद्ध होने वाले षडयंत्र को मजबूती प्रदान करता था। उन्होंने विपक्ष को सचेत करते हुए कहाकि विपक्ष की मजबूती संख्या से नहीं सिद्धातों से हुआ करती है जो आज कहीं नजर नहीं आती।

अयोध्या भगवान राम की जन्मभूमि

राम मंदिर पर बोलीं कि अयोध्या भगवान राम की जन्मभूमि है। हिंदू जनमानस सभी धर्मो और धार्मिक ग्रंथों का सम्मान करता है। अन्य धर्मों को भी हिंदू धर्म के आराध्य और धार्मिक ग्रंथों का सम्मान करना ही होगा। उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य सहित उनकी पूरी कैबिनेट को इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज रखने के लिए बधाई भी दी।

जिस दिन  370 समाप्त हुआ वह स्वर्णिम दिन था : डॉ.रीता

सासद डॉ.रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि जब 370 और 35ए समाप्त करने का बिल पास हो रहा था तो वह भी उसकी गवाह बनीं। उन्होंने इसे अपने जीवन का स्वर्णिम दिन बताया। इसके पहले उमा भारती ने डॉ.श्यामा प्रसाद मुखर्जी एवं पंडित दीनदयाल उपाध्याय के चित्र पर दीप प्रच्च्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। गोष्ठी की अध्यक्षता महानगर अध्यक्ष अवधेश गुप्ता एवं संचालन संयोजक गणेश केसरवानी ने किया। इस मौके पर शहर उत्तरी के विधायक हर्षवर्धन वाजपेयी, क्षेत्रीय अध्यक्ष महेश श्रीवास्तव, क्षेत्रीय महामंत्री अमरनाथ यादव, पूर्व मंत्री डॉ.नरेंद्र सिंह गौर, पूर्व विधायक दीपक पटेल, सुबोध सिंह, योगेश मौर्य, शशि वाष्र्णेय, आशीष गुप्ता, मीडिया प्रभारी पवन श्रीवास्तव आदि उपस्थित रहे।

महिला पदाधिकारी से भिड़े क्षेत्रीय महामंत्री

गोष्ठी खत्म होने के बाद गंगापार महिला मोर्चा की अध्यक्ष सौम्या मिश्रा और काशी क्षेत्र के महामंत्री अमरनाथ यादव के बीच झड़प हो गई। देखते ही देखते हाथापाई की नौबत आ गई। बाद में कुछ नेताओं के हस्तक्षेप से मामला शांत हुआ। बताते हैं कि पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती मीडिया से मुखातिब थीं तभी मंच के पास दोनों पदाधिकारियों के बीच नोकझोंक हुई थी। जब पूर्व मुख्यमंत्री चलीं गईं तो मामला बढ़ गया। टकराव की वजह फूलपुर की एक जमीन को बताया जा रहा है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021