प्रयागराज, जेएनएन। रामपुर में जमीन कब्जे के साथ अन्य आठ दर्जन मुकदमे में नामजद रामपुर के सांसद आजम खां के चुनाव पर भी खतरा मंडरा रहा है। रामपुर से समाजवादी पार्टी के सांसद को लाभ के दो पद पर होने के मामले में भाजपा नेता जया प्रदा ने कठघरे में खड़ा किया है।

लोकसभा चुनाव 2019 में रामपुर से भाजपा की प्रत्याशी जया प्रदा ने आजम खां के चुनाव को इलाहाबाद हाई कोर्ट में चुनौती दी है। लखनऊ खंडपीठ से याचिका खारिज होने के बाद अब प्रयागराज में इलाहाबाद हाई कोर्ट में मामले पर सुनवाई हो रही है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति एसडी सिंह ने एक विपक्षी को नोटिस तामील होने की जिला जज की रिपोर्ट न आने पर सुनवाई स्थगित कर दी और दिल्ली ईस्ट के जिला जज से दिल्ली में रह रहे विपक्षी पर नोटिस तामील होने की रिपोर्ट मांगी है। अब रामपुर के समाजवादी पार्टी के सांसद मोहम्मद आजम खां के चुनाव की वैधता की चुनौती याचिका की सुनवाई 16 अक्टूबर को होगी।

रामपुर से भाजपा प्रत्याशी रहीं जयाप्रदा ने चुनाव याचिका दाखिल कर लाभ के पद पर रहते हुए चुनाव लडऩे की वैधता को चुनौती दी है। आजम खां सहित अन्य विपक्षियों को नोटिस मिल चुकी है, किंतु उनकी तरफ से कोई वकील कोर्ट में हाजिर नहीं थे। इस कारण अब आजम खां के चुनाव की वैधता को चुनौती देने वाली जया प्रदा की याचिका पर 16 अक्टूबर को होगी। 

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस