प्रयागराज, जागरण संवाददाता। बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा 2021-23 का पर्चा शुक्रवार को प्रयागराज में आऊट होने की अफवाह फैल गई। हालांकि, प्रवेश परीक्षा के नोडल अधिकारी और विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार शैलेश शुक्ल ने इस बात को सिरे से खारिज कर दिया है। वहीं, कुलपति प्रोफेसर अखिलेश सिंह का कहना है अभी ऐसे किसी मामले की जानकारी नहीं है। पता लगवाया जा रहा है। पर्चों का मिलान करने पर ही साफ हो सकेगा कि सच क्या है। फिलहाल इंटरनेट मीडिया पर वायरल प्रश्नपत्र और शुक्रवार को परीक्षार्थियों को दिए गए प्रश्नपक्ष का कोड एक ही था। हालांकि परीक्षार्थियों का कहना है कि आऊट हुए पेपर और उन्हें मिले प्रश्नपत्र के सवालों में भिन्नता थी। ऐसे में अनुमान है कि फर्जी प्रश्नपत्र बेचा गया है। पर्चा आऊट होने की खबर तेजी से फैली। खबर मिलते ही एसटीएफ की टीम भी पर्चा आउट की तहकीकात करने में जुट गई। प्रयागराज पुलिस की टीम भी जांच करने लगी कि आखिर इसमें सच्चाई क्या है। उल्लेखनीय है कि साल्वर गैंग के सक्रिय होने की भनक लगने पर एसटीएफ और पुलिस की टीम पहले ही सक्रिय हो गई थी। सभी परीक्षा केंद्रों पर पुलिस की तैनाती की गई है जबकि एसटीएफ की टीम मोबाइल सर्विलांस कर रही है। ऐसे में ज्यादा संभावना इस बात की है कि पर्चा आऊट नहीं हुआ है और यह केवल अफवाह है। एसटीएफ के पहले से सक्रिय होने से भी यही माना जा रहा है कि पर्चा आऊट नहीं हो सका है और बेवजह किसी ने अफवाह फैलाकर ऐसी शरारत की है। उधर, हंडिया के डिग्री  कालेज स्थित परीक्षा केंद्र पर एसटीएफ ने साल्वर  गैंग के दो लोगों को पकड़ा। उनसे पूछताछ होरही है।

प्रयागराज में 104 केंद्रों पर हो रही है परीक्षा

प्रोफेसर राजेंद्र सिंह (रज्जू भइया) राज्य विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार और परीक्षा के नोडल अधिकारी शैलेंद्र शुक्ल ने बताया कि बीएड प्रवेश परीक्षा के लिए प्रयागराज में सर्वाधिक 104 केंद्र बनाे हैं। यहां 39,610 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हो रहे हैं। इसके अलावा कौशांबी में छह केंद्रों पर 2,660, फतेहपुर में 13 केंद्रों पर 400 और प्रतापगढ़ में 25 केंद्रों पर 9,500 अभ्यर्थी परीक्षा देेंगे। परीक्षा दो पालियों में आयोजित हो रही है। सुबह नौ से 12 बजे और दोपहर में दो बजे से लेकर शाम पांच बजे तक परीक्षा हो रही है। उन्होंने बताया कि परीक्षा सकुशल संपन्न कराने के लिए 208 पर्यवेक्षक विश्वविद्यालय की तरफ से नियुक्त किए गए हैं। आठ पर्यवेक्षक लखनऊ विश्वविद्यालय की तरफ से चारों जिलों के लिए नियुक्त किए गए हैं। नोडल अधिकारी ने बताया कि परीक्षा में शामिल होने के लिए अभ्यर्थियों को परीक्षा शुरू होने से 30 मिनट पहले केंद्र पर पहुंचना होगा। परीक्षार्थियों को मास्क के साथ प्रवेश दिया जा रहा है। परीक्षा केंद्र से 500 मीटर की परिधि में आने वाले फोटो कापी की सभी दुकानें बंद करा दी गई हैं।

Edited By: Ankur Tripathi