प्रयागराज, जेएनएन। बहुजन समाज पार्टी ने आगामी विधानसभा चुनाव केे लिए एक बार फिर ब्राह्मण वर्ग को साधने की कवायद शुरू की है। प्रदेश में 12 फीसद ब्राह्मण वोट बटोरने केे इरादे से शुरू हुए ब्राह्मण सम्मेलन के तहत राष्ट्रीय महासचिव सतीश मिश्र के 26 जुलाई को सैदाबाद ब्लाक आने की तैयारियां की जाने लगी हैं। कहा जा रहा है कि यहीं से पूर्वांचल मेंं चुनावी शंखनाद भी हो सकता है। उधर सतीश चंद्र मिश्र के लिए अरैल के गंगा घाट पर गंगा आरती की तैयारियां भी जय श्री महाकाल सेवा ट्रस्ट करने लगा है।

बसपा के राष्‍ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्र 26 को प्रयागराज आएंगे

सैदाबाद के पूर्व ब्लाक प्रमुख शैलेंद्र त्रिपाठी कहते हैं कि बसपा के राष्‍ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्र विराट ब्राह्मण सम्मेलन में शामिल होंगे। चुनावी माहौल में बसपा के पक्ष में ब्राह्मण मतों का ध्रुवीकरण हो सके, इसलिए इस सम्मेलन का आयोजन किया गया है। इसमें विभिन्न ब्राह्मण संगठनों के प्रतिनिधि शामिल होंगेे। इस सम्मेलन मेें काशी तक के ब्राह्मण प्रतिनिधि आएंगे।

2007 चुनाव के फार्मूले पर है बसपा

दरअसल 2007 के विधानसभा चुनाव में बसपा ने सोशल इंजीनियरिंग की बदौलत प्रदेश में सरकार बनाई थी। उसी फार्मूले के तहत अब भी संगमनगरी में यह सम्मेलन काफी अहम माना जा रहा है। हालांकि बसपा के लिए यहां मुस्लिम वाेटरों को साधना कठिन होगा। क्योंकि सपा और कांग्रेस के खेमे में भी मुस्लिम मतदाताओं का बंटवारा है।

कितना काम आएगा मां गंंगा आर्शीवाद!

बसपा के राष्ट्रीय महासचिव अरैल घाट पर गंगा जी की आरती भी करेंगे। इसके जरिए भी वेद ब्राह्मण वर्ग को साधने की कोशिश होगी। हालांकि यह कार्यक्रम धर्म व आस्था से जुड़ा है लेकिन बसपा इसे वोट बैंक में बदलने की भरपूर कोशिश में है। यह आयोजन कितना कारगर होगा और बसपा को इससे क्या फायदा पहुंचेगा यह भविष्य के गर्भ में है।

Edited By: Brijesh Srivastava