प्रयागराज, जेएनएन। अयोध्‍या में श्री राम मंदिर के भूमि पूजन को लेकर प्रयागराज के लोगों में जबरदस्त उत्साह और रोमांच रहा। आलम य‍ह था कि भूमि पूजन कार्यक्रम कार्यक्रम को देखने के लिए लोग घरों में परिवार के साथ टीवी के समक्ष डटे रहे। वहीं जिन्‍हें आवश्‍यक कार्य से बाहर निकलना था या ऑफिस में जो मौजूद थे, वह वहीं टीवी प्रोग्राम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण समाप्‍त होने तक देखते रहे। वहीं दूसरी ओर बाहर सड़कों और बाजार में सन्‍नाटा भी पसरा रहा।

स्वर्णिम पल को यादगार बनाने की तैयारी थी

राम मंदिर के भूमि पूजन को लेकर शहरवासी प्रफुल्लित हैं। हर तरफ उल्लास व दीपोत्सव जैसा माहौल सुबह से ही रहा। कस्बों व प्रमुख बाजार के साथ ही गांवों में भी राम भक्तों ने इस स्वर्णिम पल को यादगार बनाने के लिए पहले ही सभी तैयारियां मुकम्मल कर ली थी। भूमि पूजन समारोह का लाइव प्रसारण देखने के लिए अधिकांश लोगों ने अपने मोबाइल का डाॅटा तथा डिस रिचार्ज करवा कर उन्हें दुरुस्त करवा लिया था।

बचते-बचाते अयोध्या पहुंचने की स्मृतियां फिर ताजा हुई

मंदिर आंदोलन में शामिल क्षेत्र के कई बुजुर्ग नेताओं के जेहन में कारसेवा के दौरान पुलिस एवं खुफिया तंत्र की निगाह से बचने के लिए पगडंडियों के सहारे पैदल अयोध्या पहुंचने की स्मृतियां एक बार फिर ताजा हो गई। भगवान राम के भव्य मंदिर निर्माण के क्रम में भूमि पूजन कार्यक्रम में शामिल न हो सकने वाले लोगों ने कार्यक्रम का टीवी चैनलों पर लाइव प्रसारण देखा। सोशल मीडिया पर राम मंदिर निर्माण को लेकर टॉपिक जमकर ट्रेंड कर रहा है।

मंदिर आंदोलन से जुड़े कार्यकर्ताओं में खुशी का भाव

राम मंदिर आंदोलन से जुड़े विहिप नेता हरिप्रसाद मौर्या कहते हैं कि राम केवल एक नाम नहीं, बल्कि जन-जन के मन प्राण और कंठ हार हैं। अयोध्या में भगवान राम का भव्य मंदिर भक्त और भाव का संचित कर आस्था एवं विश्वास को परिपोषित करेगा। वहीं भाजपा के वरिष्ठ नेता जिला महामंत्री राम पलट पटेल कहते हैं कि राम मंदिर का निर्माण सिर्फ एक मंदिर की स्थापना नहीं, बल्कि सांस्कृतिक गौरव की पुनर्स्‍थापना का स्वर्णिम पल है।

सौगंध राम की खाते हैं, हम मंदिर वहीं बनाएंगे... आसान नहीं था

इसी क्रम में भाजपा मंडल अध्यक्ष शारदा प्रसाद शुक्ला कहते हैं कि सौगंध राम की खाते हैं, हम मंदिर वहीं बनाएंगे... आसान नहीं था इस प्रण को पूरा करना। इसके लिए उपेक्षा, उपहास और विरोध के मुश्किल दौर से गुजरना पड़ा। भाजपा नेता जय प्रकाश पटेल कहते हैं कि आज अयोध्या को उसकी पहचान मिलने जा रही है। राम मंदिर शिलान्यास सर्व समावेशी एवं सभी का भला चाहने वाली संस्कृति की विजय है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस