प्रयागराज, जेएनएन । पडोसी जनपद काैशांबी के सैनी कोतवाली क्षेत्र के रामपुर धमावां गांव के समीप शनिवार को स्कूल बस से कुचलकर हुई बाइक सवार युवक की मौत बवाल का सबब बन गई। एक तरफ गुस्साए लोगों ने बीच सड़क शव रखकर रास्ता जाम कर दिया तो पइंसा थाना क्षेत्र में उदिहिन गांव के समीप एक अन्य स्कूल की बस फूंक दी गई। करीब 3:30 घंटे हंगामा चला। समुचित मुआवजा व आरोपित चालक पर कार्रवाई का आश्वासन मिलने के बाद ही ग्रामीण शांत हुए।

इकलौता बेटा था रवि प्रताप

पइंसा थाना क्षेत्र के बंबूपुर निवासी स्व. शिवभवन सिंह का इकलौता बेटा  रवि प्रताप सिंह (30) शनिवार दोपहर करीब तीन बजे किसी काम से सिराथू जा रहा था। सैनी थानाक्षेत्र में रामपुर धमावां स्थित नदी पुल के समीप तेज रफ्तार स्कूल बस ने उसे कुचल दिया। सूचना पाकर सैनी कोतवाल बालेश्वर प्रसाद त्रिपाठी घटनास्थल पर पहुंचे। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजने की कोशिश शुरू की तो हंगामा शुरू हो गया।

ग्रामीणों ने फूंक दी बस

उधर बंबूपुर के कुछ ग्रामीणों ने उदिहिन के समीप एक बस को रोक कर उसमें आग लगा दी। मौके पर पइंसा थानाध्यक्ष संजय गुप्ता ने किसी तरह उपद्रवियों को वहां से हटाया।  जिस बस में आग लगाई गई, वह किसकी है, यह नहीं पता चल सका। कुछ लोग इसे उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के भाई द्वारा संचालित स्कूल से जुड़ी बता रहे हैैं। इधर सिराथू सीओ का कहना है कि जिन व्यक्तियों ने बस में आग लगाई है। उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। अज्ञात बस चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस