कुंभनगर : भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह बसंत पंचमी के बाद संगम में डुबकी लगाएंगे। संगम में डुबकी लगाते समय उनके साथ सभी तेरहों अखाड़ों के प्रतिनिधि भी रहेंगे। अभी 13 फरवरी की तिथि तय की गई है। तब तक मेले के तीनों शाही स्नान हो चुके होंगे। मेले में भीड़ कुछ कम हो जाएगी। अखाड़ा परिषद को भी अभी इस संभावित तिथि की मौखिक जानकारी दी गई है।

भाजपा राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष कर सकते हैं नई घोषणा

सूत्रों की मानें तो अमित शाह की यह यात्रा पूरी तरह धार्मिक एवं कुंभ के कार्यों को परखने की होगी। इस यात्रा में वह कुंभ की शोभा देखेंगे और अखाड़ों में जाएंगे। कुछ नई घोषणा भी कर सकते हैं। साथ ही कुंभ के कार्यों का निरीक्षण भी करेंगे। शहर में कुंभ के जो कार्य हुए हैं उसका भी अवलोकन करेंगे। वह कार्यों की गुणवत्ता की भी परख करेंगे। उनके साथ कुछ इंजीनियर भी होंगे। बताया गया है कि स्थानीय भाजपा नेताओं ने उन्हें पिछले दिनों यहां हुए कार्यों की गुणवत्ता की शिकायत की है। हालांकि उनके आने की जो संभावित तिथि अभी तय है उस दौरान मेले से काफी साधु संत जा चुके होंगे।

पहले भी आ चुके हैं अमित शाह

अखाड़ा परिषद के महामंत्री महंत हरि गिरि ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के आने की संभावना है। वह पहले भी यहां आ चुके हैं। उन्होंने मौजिगिरी में पूजा-अर्चना की थी। साथ ही यमुनातट का सुंदरीकरण उन्हीं के प्रयास से हो रहा है। आगे भी और कई काम उनके द्वारा होंगे। उन्होंने कहा कि कुंभ का इतना बड़ा आयोजन भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष की पहल का ही नतीजा है।     

 

Posted By: Brijesh Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप