प्रयागराज, जागरण संवाददाता। इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय के ताराचंद हास्टल के कर्मचारी रामकुमार की मौत पर विरोध के स्‍वर बढ़ते जा रहे हैं। अब विश्‍वविद्यालय छात्रसंघ बहाली की मांग करने वाले अनशनकारियों ने भी नाराजगी जताई है। उन्होंने विश्वविद्यालय प्रशासन से दो मांग की है। हालांकि, अभी इस पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है। फिलहाल इस मामले ने तूल पकड़ लिया है। 

हास्‍टल कर्मी की मानसिक तनाव में मौत पर आक्रोश

इलाहाबाद विश्वविद्यालय में छात्रसंघ भवन पर छात्रसंघ बहाली की मांग को लेकर छात्रनेता अजय यादव सम्राट के अगुवाई में अनशन जारी है। अनशनस्थल पर विश्वविद्यालय के डाक्‍टर ताराचंद छात्रावास के कर्मचारी की वेतन न मिलने से मानसिक तनाव में हुई मौत पर अनशन स्थल से कड़ी निंदा की गई।

ऐसी घटना शर्म का विषय है : छात्रनेता अजय सम्राट

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रनेता अजय सम्राट ने कहा विश्वविद्यालय परिसर में ऐसी घटना घटित होना बहुत ही शर्म का विषय है कि छात्रावास में कार्यरत कर्मचारियों को वेतन न मिलने से निर्वाह की समस्या एवं मानसिक तनाव से गुजरना पड़ रहा है। इसी क्रम में एक कर्मचारी की वेतन न मिलने से मानसिक तनाव में मृत्यु हो गई।

विश्‍वविद्यालय प्रशासन से ये मांग की गई है

विश्वविद्यालय प्रशासन से मांग की गई की मृतक कर्मचारी की पत्नी को तत्काल प्रभाव से विश्वविद्यालय में नियुक्ति एवं नाबालिक बच्चे के पोषण एवं शिक्षा हेतु उचित वित्तीय सहायता उपलब्ध कराई जाए। इसी क्रम में जो भी कर्मचारी पिछले 20 वर्ष से अधिक से छात्रावास में कार्य कर रहे हैं और उनका भी पूर्व का वेतन रुका हुआ है। उन सब का वेतन भुगतान एवं एवं अन्य वर्तमान में नियमित वेतन भुगतान व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए, जिससे भविष्य में किसी और कर्मचारी को मानसिक तनाव में आर्थिक तंगी के कारण अपनी जान न गवानी पड़े। इस मौके पर छात्र नेता हरेंद्र यादव,गोलू पासवान, नवनीत यादव, राहुल पटेल,आकाश यादव, मसूद अंसारी, अभिषेक यादव, प्रमोद यादव, प्रकाश सिंह, शिव शंकर सरोज, आनंद सांसद, सुजीत मल्ल,विकास यादव, जलज यादव, विजय रावत आदि लोग उपस्थित रहे।

Edited By: Brijesh Srivastava