प्रयागराज, जेएनएन। महज एक माह में छात्राओं के लिए पिंक टॉयलेट बनवाने का वादा करने वाला इलाहाबाद विश्वविद्यालय में अपना वादा भूल गया है। करीब डेढ़ माह का समय बीत चुका है लेकिन अब तक पिंक टॉयलेट की नींव भी नहीं रखी जा सकी है। अब इस मामले को संयुक्त संघर्ष समिति ने भी उठाया है।

पूर्व छात्रसंघ उपाध्यक्षों ने पिंक टॉयलेट का मुद्दा उठाया

संयुक्त संघर्ष समिति के संयोजक रोहित मिश्र समिति के अन्य सदस्यों के साथ नैनी सेंट्रल जेल में बंद छात्रनेताओं से मिलने पहुंचे। वहां पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष अवनीश यादव ने छात्रवृत्ति में आवेदन तिथि का मुद्दा उठाते हुए नई तिथि घोषित करने की मांग की। पूर्व छात्रसंघ उपाध्यक्ष आदिल हमजा और निवर्तमान छात्रसंघ उपाध्यक्ष अखिलेश यादव ने पिंक टॉयलेट का मुद्दा उठाया। कहा कि दैनिक जागरण की पहल पर लगभग डेढ़ माह पूर्व विश्वविद्यालय प्रशासन ने एक माह में पिंक टॉयलेट निर्माण का वादा किया था, लेकिन इसकी नींव तक न पड़ सकी। यदि विश्वविद्यालय प्रशासन निर्माण कार्य कराने में सक्षम न हो तो जमीन चिह्नित करवा दे। समिति स्वयं इसका निर्माण करवाएगी। पूर्व महामंत्री निर्भय द्विवेदी व निवर्तमान महामंत्री शिवम सिंह ने सैनेटिरी वेंडिंग मशीन विश्वविद्यालय में आने के बाद भी इंस्टालेशन न होने पर आपत्ति दर्ज कराई।

संयुक्त संघर्ष समिति ने इविवि प्रशासन को ज्ञापन भी भेजा है

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य अतेंद्र सिंह व छात्रनेता सौरभ सिंह ने छात्रावासों को शीघ्र भरने का मुद्दा उठाया। इसके अलावा संयुक्त संघर्ष समिति की बैठक में मेस में गुणवत्तापूर्ण भोजन परोसने की मांग की गई। समिति ने इविवि प्रशासन को ज्ञापन भी भेजा है। इस दौरान पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष ऋचा सिंह, निवर्तमान छात्रसंघ अध्यक्ष उदय प्रकाश यादव, आशीष प्रताप यादव, आलोक त्रिपाठी, ऋषभ सिंह यादव, प्रशांत मिश्र, राहुल तिवारी आदि उपस्थित रहे।

बोले इविवि के डीएसडब्ल्यू

इविवि के डीएसडब्ल्यू  प्रो. हर्ष कुमार कहते हैं कि पिंक टॉयलेट और छात्राओं के लिए कॉमन हॉल के लिए स्थान तय कर लिया गया है। बजट स्वीकृत हो गया है। जल्द ही निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस