प्रयागराज, जेएनएन। जवाहर लाल नेहरू ट्रस्ट के अधीन आनंद भवन, संग्रहालय और तारामंडल पर ब्याज समेत 4.36 करोड़ रुपये बकाया गृहकर के मामले में नगर निगम के जोन-4 की कर निर्धारण टीम ट्रस्ट और चैरिटेबल ट्रस्ट के दस्तावेजों की जांच कर रही है। टीम आनंद भवन का भौतिक सत्यापन कर चुकी है। उसके आधार पर ट्रस्ट द्वारा दिए गए दस्तावेजों की जांच कर रही है। तीन दिन के भीतर जोन-4 की टीम अपनी रिपोर्ट मुख्य कर निर्धारण अधिकारी को सौंप देगी। उसके बाद वह रिपोर्ट की जांच करके तय करेंगे कि आनंद भवन से गृहकर लिया जाएगा या उसमें छूट दी जाएगी।

आनंद भवन, संग्रहालय और तारामंडल पर गैर आवासीय गृहकर लग रहा है

नगर निगम ने जवाहर लाल नेहरू ट्रस्ट को बकाया गृहकर की नोटिस दी है। इसके बाद ट्रस्ट के सचिव ने महापौर से बकाया गृहकर के निस्तारण के लिए अनुरोध किया है। सचिव द्वारा भेजे गए प्रत्यावेदन की नगर निगम की कर निर्धारण टीम जांच कर रही है। पिछले सप्ताह टीम ने आनंद भवन का मुआयना किया था। इस दौरान बिल्डिंग, गार्डेन और वहां पर चल रही गतिविधियों की रिपोर्ट तैयार की गर्ई। नगर निगम के दस्तावेजों में जवाहर लाल नेहरू ट्रस्ट के अधीन आनंद भवन, संग्रहालय और तारामंडल पर गैर आवासीय गृहकर लगाया जा रहा है। ट्रस्ट द्वारा 600 रुपये वार्षिक गृहकर जमा किया जा रहा है। जबकि नगर निगम के अनुसार जवाहर लाल नेहरू ट्रस्ट पर 8,27,050 रुपये वार्षिक गृहकर लग रहा है। ब्याज समेत 4.36 करोड़ रुपये गृहकर बकाया है।

बोले नगर निगम के मुख्य कर निर्धारण अधिकारी

नगर निगम के मुख्य कर निर्धारण अधिकारी पीके मिश्र कहते हैं कि ट्रस्ट द्वारा दिए गए दस्तावेजों की जांच चल रही है। जोन की रिपोर्ट तीन दिन के भीतर आ जाएगी। ट्रस्ट और चैरिटेबल ट्रस्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई होगी। चैरिटेबल ट्रस्ट में गृहकर माफी का प्रावधान होता है।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस