प्रयागराज, जेएनएन। प्रयागराज में संगम तट पर लगने वाले ऐतिहासिक माघ मेले के सकुशल संपन्न होने की कामना हुई। इस कामना के साथ ही रविवार को दोपहर में संगम तट पर विधि-विधान से प्रशासन की ओर से पूजा और अर्चना की गई। वैदिक विधि-विधान के साथ वैदिक ब्राह्मणों ने मंत्रों का उच्‍चारण के बीच मां गंगा का पूजन किया गया।

पूजन में जुटे विशिष्‍टजन, संगम को सजाया गया

उल्‍लेखनीय है कि प्रशासन की ओर से हर वर्ष माघ मेला या फिर कुंभ या अर्धकुंभ मेले की शुरूआत के पूर्व मेला प्रशासन की ओर से पूजन किया जाता है। मां गंगा की पूजा-अर्चना करके मेले को सकुशल संपन्‍न होने की कामना की जाती है। इसी क्रम में रविवार को पूजन का आयोजन हुआ। इसके लिए संगम को  विशेष तौर सजाया गया था। इसके लिए संगम पर जेटी का निर्माण कराया गया था। पूजन में डीआइजी, डीएम, एसपी, जिला जज, महंत नरेंद्र गिरि सहित मेला में लगे विभिन्न विभागों के अधिकारी शामिल हुए। पुजारियों को दक्षिणा दी गई।

182 सीसीटीवी कैमरे से होगी माघ मेले की सुरक्षा

कुंभ मेले की तरह इस बार माघ मेले में भी सुरक्षा इंतजाम किए जाएंगे। इसके लिए पूरे मेला क्षेत्र में 182 सीसीटीवी कैमरा लगाया जाएगा। ताकि श्रद्धालुओं की भीड़ में भी संदिग्ध लोगों की पहचान हो सके। सभी कैमरों को इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर (आइट्रिपल सी) से जोड़ा जाएगा। माघ मेले में पुलिस लाइन के बगल ही कंट्रोल रूम बनाया जाएगा, जहां से सभी सीसीटीवी कैमरों पर नजर रखी जाएगी। यहां मौजूद पुलिस अधिकारी फुटेज के अनुसार ही क्राउड और सिक्योरिटी मैनेजमेंट करेंगे।

भीड़ वाली सड़कों और चौराहों पर भी रहेगी निगरानी

संगम नोज, हनुमान मंदिर, अक्षयवट, किला घाट, काली सड़क, लाल सड़क और त्रिवेणी मार्ग के अलावा अन्य प्रमुख स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। मेला क्षेत्र के उन मार्गों और चौराहों को भी इसके दायरे में रखा जाएगा, जिधर से बड़ी संख्या में श्रद्धालु गुजरते हैं। इन मार्गो व चौराहों पर स्नानार्थियों की भीड़ की स्थिति सीसीटीवी कैमरे में देखकर ही रूट डायवर्ट किया जाएगा। पुलिस अधिकारियों का मानना है कि कैमरों की कनेक्टविटी आइ ट्रिपल सी से होने शहर के बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन और पार्किंग स्थलों पर भी श्रद्धालुओं की संख्या देखकर योजना में फेरबदल किया जा सकेगा। इसके साथ ही स्नानार्थियों की भीड़ में अगर कोई संदिग्ध व्यक्ति नजर आता है तो उसे भी ट्रेस करके पकड़ा जाएगा। सीसीटीवी कैमरों के जरिए सुरक्षा और क्राउड मैनेजमेंट दोनों पर काम किया जाएगा।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस