प्रयागराज, जेएनएन। कोरोना पीडि़तों और दिवंगत लोगों के प्रति संगमनगरी में दर्द का अथाह सागर भरा है। यह दर्द अब सैलाब के रूप में सामने आ रहा है। जिसकी हिलोरें शहर के लगभग सभी छोटे-बड़े चौराहों, विभिन्न संस्था के कार्यालयों के मुहाने पर देखी जा सकती है। दैनिक जागरण की तरफ से  गुरूवार 10 जून को हो रही सर्वधर्म प्रार्थना में शहर की रफ्तार दो मिनट के लिए बस थमने को है। इसमें सहभागिता का कारवां हर पल बढ़ता जा रहा है।

व्यापारियों, संस्थाओं ने होर्डिंग बैनर से पाट दिया शहर
'हम तो अकेले ही चले थे जानिब-ए मंजिल मगर, लोग जुड़ते गए कारवां बनता गया। कुछ इसी तर्ज पर शहर का माहौल ही बदल गया है। जहां अभी तक लोग कोरोना की दूसरी लहर शांत पडऩे के बाद रोजी रोजगार संभालने में जुट गए थे वहीं अब सर्वधर्म प्रार्थना की तैयारी में तल्लीन हैं। विशाल होर्डिंग, जगह-जगह फ्लेक्स बोर्ड से व्यापारिक, स्वयं सेवी, स्वास्थ्य और सरकारी संगठनों के कार्यालय पर सर्वधर्म प्रार्थना में सहभागिता की अपील से शहर पाट दिया गया है। अब तो इंटरनेट मीडिया पर भी अपीलों का दौर जारी है। जिसका जो भी विस्तार क्षेत्र है वहां तक बात पहुंचाकर आयोजन को सौ फीसद सफल बनाने की कोशिशें अपने-अपने स्तर से जारी हैं।

खासतौर से इसमें शहर के व्यापारियों ने बढ़ चढ़कर हिस्सेदारी का खाका तैयार किया है। सिविल लाइंस, पत्थर गिरजाघर चौराहा, चौफटका, बालसन चौराहा, इंडियन प्रेस चौराहा, कटरा, चौक समेत अन्य घने इलाकों में चहुंओर सर्वधर्म प्रार्थना की लौ फूट पड़ी है।

10 जून को 10 बजे दो मिनट का मौन

तो आइए आप भी जुडि़ए इस कारवां से और बनिये उस परम पुण्य कर्म का हिस्सा जिसमें 10 जून को दिन में 10 बजे दो मिनट का मौन धारण कर कोरोना से मृत लोगों की आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की जानी है।

Edited By: Ankur Tripathi