बारा, इलाहाबाद : कुम्भ के मद्देनजर उत्तर मध्य रेलवे यात्रियों के लिए जहां स्पेशल ट्रेनों की व्यवस्था कर रहा है वहीं पश्चिम मध्य रेलवे द्वारा मेला स्पेशल चलाने की बात तो दूर इलाहाबाद-इटारसी पैसेन्जर ट्रेन को 24 दिसम्बर सोमवार से इलाहाबाद मानिकपुर के बीच निरस्त करने जा रहा है। इससे क्षेत्रीय लोगों में रोष व्याप्त है।

ज्ञात हो कि इलाहाबाद से मैहर देवी दर्शन के लिए प्रतिदिन हजारों की संख्या में लोग जाते हैं उनके लिए इलाहाबाद इटारसी पैसेंजर ट्रेन ही एक मात्र साधन है क्योंकि उक्त मार्ग पर मात्र यही एक पैसेन्जर ट्रेन है, जबकि अन्य मार्गो पर कम से कम तीन पैसेन्जर ट्रेन चलती हैं। इलाहाबाद इटारसी 51189 डाउन एवं 51190 अप को मानिकपुर इलाहाबाद के बीच निरस्त कर डाउन में दादर गोरखपुर एवं अप में कामायनी एक्सप्रेस का इलाहाबाद से मानिकपुर के बीच के स्टेशनों पर ठहराव दिया जायेगा।

गौरतलब है कि ये दोनों ही ट्रेने इलाहाबाद-मुम्बई मार्ग की अति महत्वपूर्ण ट्रेने हैं और इनमें इतनी ज्यादा सवारियां होती है कि छोटे स्टेशनों के यात्रियों को चढ़ने के लिए जगह नहीं मिल पाती है सफर करना और बैठने की जगह पाना तो बहुत दूर की बात है। आज वर्षो में तो लोग इन ट्रेनों में चढ़ ही नहीं पाते थे सो कुम्भ में यात्रियों की संख्या और भी कई गुणा अधिक हो जायेगी तो ऐसी स्थिति में मानिकपुर स्टेशन पर इटारसी पैसेन्जर से उतरने वालों को ही काशी एक्सप्रेस में जगह नहीं भी मिलेगी। बांकी बीच के स्टेशन डभौरा, पन्हाई, बरगढ़, मझियारी, लोहगरा, जसरा के यात्रियों का क्या होगा इसका अनुमान सहज ही लगाया जा सकता है। लोगों ने डीआरएम हरेंद्र राव से इलाहाबाद इटारसी पैसेन्जर को हमेशा की तरह कुम्भ मेले के दौरान भी नियमित रूप से समय सारिणी के अनुसार चलाये जाने की मांग की है, उक्त ट्रेन के न चलाने पर लोगों ने आन्दोलन करने की चेतावनी भी दी है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर