प्रयागराज, [गुरुदीप त्रिपाठी]। मोतीलाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एमएनएनआइटी) के शैक्षणिक सत्र 2018-19 में बीटेक (इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग) के 96.97 फीसद छात्र-छात्राओं को विदेशी कंपनियों में नौकरी मिली है। इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के तीन छात्रों को 49 लाख के पैकेज पर चुना गया है।

छात्र-छात्राओं को 36-36 लाख के वार्षिक पैकेज पर विदेशी कंपनियों ने नौकरी मिली
संस्थान के निदेशक डॉ. राजीव त्रिपाठी ने बताया कि बीटेक आईटी और कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग के छात्र-छात्राओं को 36-36 लाख के वार्षिक पैकेज पर विदेशी कंपनियों ने नौकरी दी है। इसके अलावा एमसीए के छात्र को 29.25 लाख और बीटेक इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशन के छात्र को 25.33 लाख के वार्षिक पैकेज पर नौकरी मिली है।

इन ट्रेडों के छात्र-छात्राओं ने मारी बाजी
बीटेक के बॉयोटेक्नोलॉजी में न्यूनतम 6.84 और अधिकतम 13.6 लाख का पैकेज रहा। केमिकल इंजीनियरिंग के छात्रों को अधिकतम 17.3 लाख, सिविल इंजीनियरिंग के छात्रों को अधिकतम 17.3 लाख के सालाना पैकेज पर चुना गया। इसी तरह, कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग में अधिकतम 36 लाख का पैकेज रहा। कुछ ऐसी ही स्थिति इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी में भी रही। इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग के छात्रों को अधिकतम 25.33 लाख के पैकेज पर चुना गया। मैकेनिकल इंजीनियरिंग के छात्रों को अधिकतम 17.3 लाख, प्रोडक्शन एंड इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग में अधिकतम 10 लाख के पैकेज पर छात्रों को नौकरी मिली।

एमटेक के छात्रों को अधिकतम 18 लाख का पैकेज
एमटेक के छात्रों को अधिकतम 18 लाख का पैकेज दिया गया। एमसीए में अधिकतम 29.25 लाख व एमबीए में 5.73 लाख का सालाना पैकेज मिला।

अब तक 285 कंपनियों ने किया विजिट
वर्ष 2006 में शुरू हुए केमिकल और बॉयोटेक्नोलॉजी में 100 फीसद प्लेसमेंट रहा। संस्थान में इस बार 285 कंपनियों ने अब तक विजिट किया और अच्छे पैकेज पर नौकरी दी। अब तक 856 छात्र-छात्राओं को कैंपस प्लेसमेंट में सफलता मिली।

बोले एमएनएनआइटी के निदेशक
एमएनएनआइटी के निदेशक डॉ. राजीव त्रिपाठी कहते हैं कि संस्थान के तीन छात्रों को विदेशी कंपनियों ने 49 लाख के सालाना पैकेज पर नौकरी दी है। कई अन्य कंपनियां अभी प्लेसमेंट के लिए संपर्क में हैं।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप