प्रयागराज, जेएनएन। स्वास्थ्य, शिक्षा व अन्य बुनियादी योजनाओं के लाभ से वंचित ग्रामीण अक्सर यह नहीं समझ पाते कि उन्हें कहां आवेदन करना है और लाभ क्या मिलेगा। ऐसे लोगों के लिए अच्‍छी खबर है। अब योजनाओं के लिए गांव के लोगों को भटकना नहीं पड़ेगा। इस खबर के माध्‍यम से ग्रामीण इलाकों में रहने वालों के लिए जानकारी उपलब्‍ध है। इसके माध्‍यम से उन्‍हें सुविधाओं का आसानी से लाभ मिल सकता है।

योजनाओं की दी गई जानकारी

ह्यूमन लिबर्टी नेटवर्क उत्तर प्रदेश की सदस्य संस्था प्रगति ग्रामोद्योग ने समाज कल्याण संस्थान के सभागार में मास्टर ट्रेनर के एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया। इसके माध्‍यम से ऐसी तमाम जानकारी दी गई है। इसमें शिक्षा, स्वास्थ्य, मनरेगा, जीपीडीपी व डीसीपीसी योजनाओं के बारे में विशेषज्ञों द्वारा प्रशिक्षित किया गया। अब यह मास्टर ट्रेनर जनपद के 250 गांव में 5 हजार चैम्पियंस को प्रशिक्षित करेंगे। यह चैम्पियंस सरकारी योजनाओं से वंचित समुदाय को योजनाओं का लाभ दिलाकर सक्षम बनाएंगे ताकि किसी परिवार का कोई बच्चा बालश्रम करने के लिए मजबूर न हो।

ग्रामीण इलाकों में शिक्षा, स्‍वास्‍थ्‍य आदि पर होगा कार्य

संस्था की कार्यक्रम अधिकारी आकांक्षा श्रीवास्तव ने योजनाओं के संबंध में आवश्‍यक जानकारी दी। उन्‍होंने बताया कि चयनित 5 हजार चैम्पियंस का प्रशिक्षण जुलाई माह में पूरा कर लिया जाएगा। इसके बाद ये चैंपियन गांव के लोगों के शिक्षा, स्वास्थ्य, मनरेगा व बाल विकास आदि मुद्दों पर एक अगस्त से सुचारू रूप से काम करना शुरू कर देंगे। प्रशिक्षण कार्यक्रम में जनपद के मेजा, कोरावं, जसरा, शंकरगढ़ व गंगापार के छह ब्लाकों के मास्टर ट्रेनर भी मौजूद रहे।

महिलाओं को करेंगे जागरूक

मास्टर ट्रेनर ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं को जागरूक करेंगे। उन्हें हर उस योजना के बारे में बिंदुवार अवगत कराएंगे जिनसे रोजगारपरक और आर्थिक लाभ पाया जा सकता है।

Edited By: Brijesh Srivastava