प्रयागराज, जेएनएन। इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय (इविवि) को स्थायी कुलपति जल्द ही मिल जाएंगे। इसकी प्रक्रिया शुरू हो गई है। देशभर से 413 आवेदकों में 15 को केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एचआरडी) में इंटरव्यू के लिए आमंत्रित किया गया हैं जिसमें इविवि के भी तीन शिक्षक शामिल हैं। इंटरव्यू की तिथि शीघ्र ही घोषित की जाएगी।

दिसंबर 2019 में पूर्व कुलपति ने दिया प्रोफेसर रतन लाल हांगलू ने दिया था इस्‍तीफा

दरअसल, इविवि के पूर्व कुलपति प्रोफेसर रतन लाल हांगलू में 31 दिसंबर 2019 को पद से इस्तीफा दे दिया था। मंत्रालय के निर्देश पर वरिष्ठता सूची के आधार पर प्रो. केएस मिश्र को कार्यवाहक कुलपति का जिम्मा सौंपा गया। उनके रिटायर्ड होने के बाद प्रो. पीके साहू को एक दिन का कुलपति नियुक्त किया गया। उनके रिटायर्ड होने के बाद प्रो. आरआर तिवारी को कार्यवाहक कुलपति की कमान सौंपी गई। इसी बीच मंत्रालय ने स्थायी कुलपति पद के लिए आवेदन मांगे और कुलपति की नियुक्ति के लिए तीन सदस्यीय सर्च कमेटी का गठन किया गया। कमेटी को लेकर भी काफी दिनों तक रार मची रही। हालांकि, इन सबके इतर उन्हीं नामों पर मुहर लगी।

नए शैक्षणिक सत्र की शुरुआत से पहले मिल जाएंगे स्‍थायी कुलपति

मंगलवार को करीब साढ़े तीन बजे नई दिल्ली में सर्च कमेटी की पहली बैठक हुई। सूत्रों की मानें तो कमेटी की पहली बैठक में आवेदन पत्रों की स्क्रीनिंग हुई। यह आसार जताए जा रहे हैं कि नए शैक्षणिक सत्र की शुरुआत होने से पहले ही स्थायी कुलपति मिल जाएंगे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस