प्रयागराज, जेएनएन। लॉकडाउन के दौरान आप अपने घरों में ही सुरक्षित रहें। बाहर न निकलें और राशन राशन व अन्य खाद्यान्न सामग्री के लिए परेशान कतई मत हों। इस संकट से  जिला प्रशासन वाकिफ है और कवायद तेज कर दी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देशानुसार घर-घर राशन व सामान पहुंचाने की तैयारी कर ली गई है। इसके लिए लगभग 800 वाहनों को लगाया गया है।

फुटकर दुकानों में माल की कमी के चलते उत्पन्न हो गई है

लॉकडाउन के कारण सबसे बड़ी समस्या फुटकर दुकानों में माल की कमी के चलते उत्पन्न हो गई है। दरअसल, गल्ला-तिलहन मंडी, दाल मंडी, बताशा-गुड़ मंडी के बंद होने से माल की आपूर्ति छोटी दुकानों पर नहीं हो पा रही है। इसके कारण मोहल्लों की दुकानों पर सामान की कमी पड़ गई। हालत यह हो गई कि आटा, दाल और चावल तथा सरसों का तेल व नमक भी दुकानों से खत्म हो गया है।

डीएम ने व्‍यापार संगठनों संग बैठक की

इस संबंध में डीएम भानुचंद्र गोस्वामी ने गल्ला तिलहन व्यापार मंडल, सब्जी-फल व्यापार मंडल व अन्य कई व्यापार मंडल के पदाधिकारी तथा ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन, ऑटो-रिक्शा यूनियन के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की। इस दौरान डीएम ने सभी व्यापारी नेताओं को यह आश्वासन दिया कि बाहर से शहर आने वाले वाहनों तथा शहर में व्यापारियों के माल ढुलाई करने वाले वाहनों को पास जारी किया जाएगा, जिससे इन वाहनों से आसानी से छोटी दुकानों तक माल पहुंचाया जा सके।

ऑटो-रिक्शा यूनियन ने वाहन देने का दिया आश्‍वासन

इसके साथ ही घर-घर सामान पहुंचाने की भी रणनीति बनाई गई। इसके तहत ऑटो-रिक्शा यूनियन के अध्यक्ष विनोद चंद्र दुबे ने 800 ई-रिक्शा, ऑटो व पिकअप वाहन मुहैय्या कराने का आश्वासन दिया। अफसरों ने घर-घर सामान पहुंचाने का मसौदा तैयार किया और जल्द ही इसके क्रियान्वयन के निर्देश दिए गए।

475 रुपये में होगा राशन पैकेट

घर-घर सामान पहुंचाने के दौरान जो राशन पैकेट होगा, उसकी कीमत 475 रुपये होगी। इसमें पांच किलो आटा, एक किलो चावल, एक किलो दाल और नमक रहेगा। इस तरह के पैकेट की व्यवस्था दूसरे जिलों में की गई है, जिसके तर्ज पर यह व्यवस्था यहां भी लागू करने की योजना है।

हेल्पलाइन नंबर-0532-2266098, 2266099

खाद्यान्न आपूर्ति को कंट्रोल रूम बना

राशन समेत आवश्यक सामान की किसी को भी दिक्कत हो तो कंट्रोल रूम में फोन कर सकता है। इसके अलावा व्यापारियों को वाहन पास अथवा अन्य किसी प्रकार की समस्या का समाधान भी कंट्रोल रूम में तैनात अफसर करेंगे। एडीएम सिटी अशोक कुमार कनौजिया ने बताया कि यह कंट्रोल रूम पुलिस लाइन स्थित इंटीग्रेटेड कंट्रोल एंड कमांड सेंटर में स्थापित किया गया है।

छह अधिकारियों की है तैनाती

कंट्रोल रूम में छह प्रभारी अधिकारी तैनात किए गए हैैं।

- सुबह छह से अपराह्न दो बजे तक क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी अरुण कुमार (9452071123) व चकबंदी अधिकारी सुखेंद्र सिंह (9415063349) तैनात रहेंगे।

- अपराह्न दो बजे से रात 10 बजे तक क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी विनोद कुमार (9415862901) तथा चकबंदी अधिकारी मिथलेश कुमार (8173070364) तैनात रहेंगे।

- रात में 10 बजे से सुबह छह बजे तक क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी जीतलाल (9838339635) व चकबंदी अधिकारी अलगू सिंह तैनात रहेंगे।

इन अधिकारियों की भी रहेगी ड्यूटी

इनके अलावा पूर्ति निरीक्षक शालिनी चतुर्वेदी, सहायक चकबंदी अधिकारी मनोज कुमार को सुबह से दोपहर तक, सप्लाई इंस्पेक्टर विनय यादव व सहायक चकबंदी अधिकारी संजय शुक्ला को रात 10 बजे तक तथा सप्लाई इंस्पेक्टर दिनेश कुमार व सहायक चकबंदी अधिकारी देवकांत पांडेय की ड्यूटी रात में रहेगी।

डीएम व एसएसपी ने शहर का किया भ्रमण, लिया हाल

डीएम और एसएसपी ने शहर के विभिन्न इलाकों में जाकर लॉकडाउन का माहौल देखा। सिविल लाइंस में सैनिटाइज की व्यवस्था भी देखी गई। डीएम ने हिम्मतगंज में किराने की दुकान पर ज्यादा भीड़ होने पर उसे फौरन बंद करा दिया। डीएम ने शहर मेें तैनात किए गए मजिस्ट्रेटों को लॉकडाउन के नियमों का कड़ाई से पालन कराने के निर्देश दिया।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस