प्रयागराज, जेएनएन। वायु सेना अध्यक्ष एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार भदौरिया मंगलवार को प्रयागराज में रहे। उन्होंने कमांडरों को सुरक्षा खतरों से निपटने के लिए भारतीय वायुसेना की रणनीति को स्पष्ट किया। कहा कि शत्रु की किसी भी नापाक हरकत को विफल करने के लिए सभी कमांडर सतर्क एवं तैयार रहें। उन्होंने एयरोस्पेस, साइबर और सूचना क्षेत्र में सर्वोच्च प्रशिक्षण मानक अपनाने को कहा। साथ ही बदले दौर की आधुनिक सुरक्षा प्रणाली अपनाने का निर्देश दिया। कहा कि डिजाइन एवं विकास में अधिकतर स्वदेशीकरण को तरजीह दी जाए।

मध्य वायु कमान मुख्यालय बमरौली में एयरफोर्स कमांडरों का वार्षिक सम्मेलन

मध्य वायु कमान मुख्यालय बमरौली में 10 एयरफोर्स स्टेशनों के कमांडरों का वार्षिक सम्मेलन मंगलवार को शुरू हुआ। इसका उद्घाटन वायु सेनाध्यक्ष एयर चीफ  मार्शल राकेश कुमार भदौरिया ने किया। उन्होंने सम्मेलन में वायु सेनाध्यक्ष ने कमांडरों को मुस्तैद रहने का मंत्र दिया और वायुसेना की रणनीति स्पष्ट की। यह सम्मेलन 20 फरवरी तक आयोजित होगा।

मध्य वायु कमान पहुंचने पर वायु सेना अध्यक्ष का भव्य स्वागत

सुबह मध्य वायु कमान पहुंचने पर वायु सेना अध्यक्ष एयर चीफ  मार्शल भदौरिया का कमांडिंग इन चीफ  एयर मार्शल राजेश कुमार ने स्वागत किया। वायु सेनाध्यक्ष ने मध्य वायु कमान के परिक्षेत्र में आने वाली यूनिटों और स्टेशनों की ऑपरेशनल तैयारी के साथ ही कमान में चल रही परियोजनाओं की समीक्षा की।

मध्य वायु कमान के वायु योद्धाओं से मुलाकात कर सराहना की

सम्मेलन के बाद वायु सेनाध्यक्ष ने मध्य वायु कमान के वायु योद्धाओं से मुलाकात की। उन्होंने भारतीय वायु सेना के मूल सिद्धांत अभियान, सत्यनिष्ठा एवं उत्कृष्टता को और आगे बढ़ाने में उनके कठिन कार्य व समर्पण भावना की भी सराहना की। वह बुधवार को भी सम्मेलन को संबोधित करेंगे। इसके बाद दोपहर बाद वह दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

इन स्टेशनों से आए हैं कमांडर

मध्य वायु कमान के परिक्षेत्र में बरेली, ग्वालियर, आगरा, इलाहाबाद, गोरखपुर, लखनऊ, कानपुर, वाराणसी, दरभंगा और बिहटा एयरफोर्स स्टेशन है। इन स्टेशनों के कमांडर सम्मेलन में शामिल होने आए हैं।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस