प्रयागराज, जेएनएन। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में प्रदर्शन करने वाले 200 और लोग चिह्नित कर लिए गए हैं। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज और वीडियो रिकार्डिंग को देखकर करीब 200 प्रदर्शनकारियों के बारे में जानकारी जुटाई है। अब उन लोगों से दूसरे प्रदर्शनकारियों के बारे में भी पता लगाया जाएगा। वहीं नामजद आरोपितों की तलाश भी शुरू हो रही है।

144 लागू है, जिसका उल्लंघन करने के आरोप में केस दर्ज

शुक्रवार को जुमा की नमाज के बाद पुराने शहर में हजारों लोग सड़क पर उतर आए थे। फिर वह नारेबाजी व प्रदर्शन करते हुए जुलूस की शक्ल में सिविल लाइंस के सुभाष चौराहे पर एकजुट हुए थे। बवाल की आशंका को देखते हुए जिले में धारा 144 लागू है, जिसका उल्लंघन करने के आरोप में मुकदमा लिखा गया था। शहर के सिविल लाइंस, खुल्दाबाद, शाहगंज, कोतवाली, करेली और अतरसुइया थाने में सौ नामजद व 10 हजार से अधिक अज्ञात लोगों पर रिपोर्ट दर्ज हुई थी। इसमें सैकड़ों नाबालिग भी आरोपित किए गए हैं। प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने वीडियो रिकार्डिंग भी की थी।

बोले एसपी सिटी, चिह्नित करने के बाद नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी

एसपी सिटी बृजेश श्रीवास्तव का कहना है कि सीसीटीवी फुटेज व वीडियो के आधार पर तमाम लोगों की पहचान की गई है। यह प्रक्रिया आगे भी चलती रहेगी और सभी को चिह्नित करने के बाद नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। वहीं, अतरसुइया थाने में नामजद किए गए पूर्व पार्षद, कांग्रेस व सपा नेताओं की तलाश भी तेज हो गई है। पुलिस उनकी गतिविधि के बारे में भी जानकारी जुटा रही है।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस