प्रयागराज, जेएनएन। मोतीलाल नेहरू राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एमएनएनआइटी) में प्रोफेसर पर पीछा करने और मोबाइल पर रात में फोन व मैसेज भेजने के मामले में ग्रीवांस सेल ने जांच शुरू कर दी है। सेल ने सिक्योरिटी गार्ड से भी प्रकरण में पूछताछ की। अब सीसीटीवी फुटेज और कॉल डिटेल रिपोर्ट (सीडीआर) पर जांच टिकी है।

सिक्योरिटी हेड से छात्रा ने शिकायत कर प्रोफेसर पर लगाए थे गंभीर आरोप

बता दें कि एमएनएनआइटी की एक शोध छात्रा ने छह नवंबर को सिक्योरिटी हेड से लिखित शिकायत की थी। छात्रा ने अपने शोध निर्देशक पर रात में फोन और मैसेज करने के अलावा पीछा करने का आरोप लगाया है। छात्रा का कहना था कि वह इस भय से कहीं जा नहीं पा रही है। उसने सिक्योरिटी इंचार्ज से प्रोफेसर को हॉस्टल गेट पर आने से रोकने का अनुरोध किया था। उसने चेतावनी भी दी कि यदि प्रोफेसर की हरकत जारी रही तो वह राष्ट्रीय महिला आयोग, मानव संसाधन विकास मंत्रालय के साथ ही पुलिस में भी शिकायत करेगी। सिक्योरिटी इंचार्ज ने शिकायत की। सिक्योरिटी इंचार्ज ने लिखित जानकारी निदेशक और रजिस्ट्रार को दी। इसके बाद ग्रीवांस सेल ने मामले की जांच शुरू कर दी।

सीसीटीवी फुटेज व सीडीआर पर टिकी जांच

सूत्रों की मानें तो सेल ने सिक्योरिटी गार्ड से प्रकरण में पूछताछ की। अब जांच सीसीटीवी फुटेज और सीडीआर पर टिकी है। इस संदर्भ में संस्थान के कार्यवाहक निदेशक प्रोफेसर एमएम गोरे ने बताया कि समितियों की गोपनीयता बरकरार रहती है। ऐसे में कोई भी सूचना साझा नहीं कर सकते हैं। इस मामले में संस्थान के निदेशक ही कुछ बता सकते हैं। वहीं, निदेशक प्रोफेसर राजीव त्रिपाठी ने बताया कि वह रविवार को पहुंचेंगे। इसके बाद सोमवार को शोध छात्रा और प्रोफेसर से स्पष्टीकरण मांगा जाएगा। फिर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप