- ज्यादातर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, एएनएम और आशा थीं गैरहाजिर

जासं, इलाहाबाद : मतदाता सूची पुनरीक्षण विशेष कार्यक्रम में अनुपस्थित रहने वाले जिले के 155 बूथ लेबल ऑफिसर (बीएलओ) का एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए गए हैं। डीएम के निर्देश पर संबंधित तहसीलों के एसडीएम ने यह कार्रवाई की है। दरअसल, रविवार को विशेष कार्यक्रम के दौरान दैनिक जागरण की टीम ने कई मतदान केंद्रों पर जमीनी हकीकत की पड़ताल की थी। उस दौरान कई केंद्रों पर ताले लटके थे तो कई केंद्रों पर आधे से ज्यादा बीएलओ नदारद थे। जागरण में सोमवार के अंक में यह समाचार प्रमुखता से प्रकाशित हुआ तो अफसरों में हड़कंप मच गया। इसके बाद डीएम ने कार्रवाई के निर्देश दिए।

एसडीएम सदर आयुष चौधरी ने बताया कि शहर उत्तरी विधानसभा क्षेत्र में 58, पश्चिमी विधानसभा क्षेत्र में 25 और दक्षिणी विधानसभा क्षेत्र में 12 बीएलओ का एक दिन का वेतन काटने का निर्देश किया गया है। निर्देश की कॉपी कोषागार को भेज दी गई है, जिससे इसी माह के वेतन से लापरवाह बीएलओ का एक दिन का वेतन काट लिया जाए। इसी तरह करछना, मेजा, कोरांव, बारा, सोरांव, प्रतापपुर, हंडिया, फूलपुर विधानसभा क्षेत्रों में 55 बीएलओ अनुपस्थित थे, जिनका एक दिन वेतन काटा गया है। डीएम सुहास एलवाई ने निर्वाचन कार्यो में लगे सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को चेतावनी दी है कि लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। लापरवाही मिली तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

31 अक्टूबर तक चलेगा कार्यक्रम

मतदाता सूची पुनरीक्षण विशेष अभियान 31 अक्टूबर तक चलेगा। सात, 14 एवं 28 अक्टूबर को विशेष कार्यक्रम होगा। इन दिनों सभी मतदान केंद्रों पर बीएलओ मौजूद रहेंगे और मतदाता सूची में नाम बढ़वाने तथा कटवाने का फॉर्म जमा कराएंगे। उप जिला निर्वाचन अधिकारी वीएस दुबे ने बताया कि वैसे तो 31 अक्टूबर तक यह कार्य किया जा रहा है। मतदाता सूची में नाम जोड़वाने और कटवाने तथा संशोधन करवाने के लिए लोग तहसील में भी जा सकते हैं। इसके अलावा घर-घर बीएलओ को जाना है, जिन्हें लोग फॉर्म दे सकते हैं। नाम बढ़वाने के लिए एक जनवरी 2019 को 18 वर्ष की आयु जिसकी पूरी हो जाएगी, वह फॉर्म जमा कर सकता है।

आठ हजार ने किए नाम बढ़वाने को आवेदन

आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों के तहत निर्वाचन आयोग की ओर से मतदाता सूची में संशोधन किया जा रहा है। इसके लिए रविवार को पहले विशेष कार्यक्रम के दौरान आठ हजार 54 लोगों ने नाम बढ़वाने के लिए आवेदन किया। इसमें सबसे ज्यादा महिलाएं शामिल हैं। उनकी संख्या 3699 रही। इसी तरह 18 से 19 साल तक युवाओं की संख्या 2710 रही। सूची में नाम बढ़वाने के लिए 30 दिव्यांगों ने भी आवेदन किया है। इसके अलावा मृतक मतदाताओं का नाम कटवाने के लिए 1995 फॉर्म भरे गए। इस दौरान 419 डुप्लीकेट मतदाता भी सामने आए, जिनके नाम कटवाने के लिए आवेदन जमा कराए गए। इसी तरह 370 शिफ्टेड तथा 276 ने नाम संशोधित कराने के लिए आवेदन किया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021