अलीगढ़ जेएनएन: उत्‍तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ के कस्‍बा गोरई में युवक हेमन्त ठेनुआ पुत्र रनबीर सिंह की गोली मारकर हत्‍या कर दी।  घटना से आसपास के लोगों में दहशत है। जानकारी मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई और घटना की जानकारी की। हत्‍यारों का अभी तक पता नहीं चला है। पुलिस छानबीन में जुटी हुई है।

ऐसे हुई घटना

अलीगढ़ के गोरई कस्बा स्थित बन्द पड़ी प्राइवेट आईटीआई कॉलेज में हेमंत पुत्र तकछपाल सिंह उर्फ रनबीर सिंह निवासी गोरई को बीती रात गोली मारकर हत्या कर दी गई। परिजनों के अनुसार हेमंत बीटीसी कर रहा था। मंगलबार की सुबह एस आई का फार्म भरने गया था लेकिन शाम तक वापस नहीं आया। फोन किया लेकिन रिसीव नहींं हुआ। कुछ देर बाद फोन बंद हो गया। हेमंत की चारों तरफ तलाशा गया,  लेकिन कही नहीं मिला। बुधबार की सुबह  उसका शव गोली लगा हुआ मिला। मौके पर एसपी पहुँच गए हैं।

ससुराल में पिटाई से झुब्ध युवक फंदे पर झूला 

लोधा: थाना क्षेत्र के गांव खेड़ा खुशखबर में ग्राम प्रहरी के बेटे ने ससुराल में ससुरालियों के मारपीट कर देने से झुब्ध होकर फंदे पर झूलकर खुदकशी कर ली। 

दवा मांगी तो बेटे का कोई जबाव नहीं आया

ग्राम प्रहरी ओमप्रकाश ने बताया कि 28 वर्षीय बेटे महेशचंद की पत्नी एक सप्ताह पूर्व तीन बच्चों को लेकर मायके गई थी। महेश सोमवार को पत्नी को बुलाने जवां के गांव खुर्द दरियापुर स्थित ससुराल गया था। आरोप है कि वहां ससुरालियों ने महेश के साथ मारपीट कर दी और उसे बिना पत्नी व बच्चों के भगा दिया। रात में महेश घर आ गया और ससुरालियों के बर्ताव से दुखी होकर फंदा लगाकर खुदकशी कर ली। रात करीब 12 बजे बीमार चल रहे ग्राम प्रहरी ओमप्रकाश ने बेटे से दवा मांगी तो बेटे का कोई जबाव नहीं आया। देखा तो बेटा फंदे पर झूलता दिखा। चीख-पुकार पर ग्रामीण आ गए। महेश छह भाई-बहनों में चौथे नंबर के थे। एसओ लोधा रामवकील ने बताया कि मामले में स्वजनों के लगाए गए आरोपों की जांच की जा रही है। हालांकि स्वजनों की ओर से अभी कोई शिकायत नहीं मिली हैं। 

Posted By: Sandeep Saxena

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस