अलीगढ़ [जेएनएन]: नोएडा से पैदल घर आ रहे हाथरस के युवक व उसके दो साथियों को किसी वाहन ने टक्कर मार दी। युवक की मौत हो गई, उसके साथी घायल हो गए, जिन्हें अस्पताल मेंं भर्ती कराया गया है।

नोएडा में करते थे मजदूरी

हाथरस के सिकंदराराऊ क्षेत्र के गांव महमूदपुर गजेंद्र सिंह नोएडा की किसी फैक्ट्री में मजदूरी करते थे। लॉकडाउन में वाहन न मिलने पर गुरुवार रात साथी धर्म सिंह निवासी सामंती नगला, बरला व टिंकू निवासी बाजिदपुर हाथरस के साथ पैदल घर आ रहे थे। रात करीब एक बजे देहलीगेट क्षेत्र के हाईवे पर एलाना पुलिस बूथ के पास किसी वाहन ने तीनों में टक्कर मार दी। पुलिस ने घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। जहां गजेंद्र सिंह ने दम तोड़ दिया।

पत्नी कर रही थी इंतजार

गजेंद्र ने रास्ते से पत्नी ममता को फोन पर बताया कि वह अलीगढ़ आ गए हैं, सुबह तक घर पहुंच जाएंगे। सुबह हादसे के बारे में जानकारी मिली तो ममता बेसुध हो गई।

गुदमई में दूध लेने के विवाद में मारपीट, तीन घायल

अलीगढ़ अकराबाद थाना क्षेत्र के गांव गुदमई में शुक्रवार सुबह दो दुग्ध व्यवसाइयों में जमकर मारपीट हो गई, जिसमें तीन लोग घायल हो गए। पुलिस ने दोनों पक्ष के दो लोगों पर कार्रवाई की है। गुदमई मिश्रीपुर निवासी विजयपाल व अनीस खां का गांव में दूध का कारोबार है। विजयपाल ने गांव के ही एक भैंस पालक को दूध के लिए पेशगी दे रखी थी। वह उन्हें दूध भी बेच रहा था। शुक्रवार सुबह भैंस पालक ने गांव के अनीस खां को दूध बेच दिया, जिसका विजयपाल ने यह कहते हुए भैंस मालिक से विरोध किया कि पहले पेशगी के पैसे वापस दो। उसके बाद दूध कहीं भी बेचना। बस इसी बात पर भैंस वाला तो अलग हो गया।

व्यक्ति को जेल भेजा

अनीस खां ने विजयपाल के साथ मारपीट कर दी। विजयपाल किसी तरह बचकर घर पहुंच गया। तभी पीछे अनीस अपने परिवार के लोगों के साथ लाठी-डंडे लेकर पहुंच गया। वहां  विजयपाल, अजयपाल, चरनसिंह के साथ जमकर मारपीट की। तीनों लोगों के गंभीर चोटें आई हैं। पुलिस के मुताबिक इस मामले में दोनों पक्ष से एक-एक व्यक्ति को जेल भेजा है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस