जासं, अलीगढ़ : सिविल लाइन क्षेत्र के जमालपुर हमदर्द नगर डी में महिला की सोमवार तड़के अवैध संबंधों के शक में उसके ही कथित प्रेमी ने चाकू से प्रहार कर हत्या कर दी। छीना-झपटी में आरोपित व महिला का सात साल का बेटा भी चाकू लगने से घायल हो गए। महिला शौहर से अलग किराये के मकान में रह रही थी। आरोपित महिला के शौहर का दूर का मामा लगता है। पुलिस ने आरोपित को दस घंटे बाद गिरफ्तार कर वारदात का राजफाश कर दिया।

एसपी सिटी कुलदीप सिंह गुनावत ने बताया कि हमदर्द नगर डी में 32 वर्षीय रुखसार ससुराल से कुछ दूर दो बेटों के साथ शौहर से अलग किराये के मकान में रह रही थी। करीब 10 माह पहले रुखसार का शौहर शाजेब से विवाद हो गया था। इसके बाद वह मुंबई जाकर काम करने लगा। एक्सीडेंट में उसके दोनों पैर जख्मी हो गए, जिससे वह दिव्यांग की स्थिति में आ गया। पिछले दिनों वह मुंबई से घर आ गया था।

अनवार ने दिलवाया था मकान

एसपी सिटी के अनुसार शाजेब का दूर का रिश्ते का मामा देहलीगेट के उस्मानपाड़ा पेंटर वाली गली निवासी अनवार खां शाजेब के घर आता-जाता था। अनवार व रुखसार एक-दूसरे के करीब आ गए। इसकी जानकारी शाजेब को हुई तो उसने विरोध शुरू कर दिया। इस पर रुखसार का शाजेब से विवाद हो गया। रुखसार मोहल्ले में ही किराये के मकान में रहने लगी। यह मकान अनवार ने दिलवाया था। अनवार ही उसका खर्चा उठाता था।

किसी और से संबंधों का शक

अनवार को शक था कि रुखसार के किसी और से भी संबंध हैं। अनवार तड़के करीब चार बजे रुखसार से मिलने उसके घर पहुंचा। इन्हीं संबंधों को लेकर रुखसार व अनवार में कहासुनी हो गई। अनवार घर में ही रखा चाकू निकाल लाया। पहले उसने रुखसार को डराने की कोशिश की फिर ताबड़तोड़ प्रहार शुरू कर दिए। सिर, गले, पेट, पीठ व जांघ समेत शरीर पर 10-15 जगह वार कर डाले। जब उसने इस बात की तस्दीक कर ली कि रुखसार का बचना मुश्किल है, तब उसका गुस्सा थमा।

छीना-झपटी में खुद भी घायल : अनवार के हमले का रुखसार ने अंतिम सांस तक विरोध किया। उसके हाथ में लगे चाकू को छीनने का प्रयास भी किया। छीना-झपटी में चाकू उसकी हथेली में जा लगा। चीख-पुकार पर रुकसार के दोनों बेटे जाग गए। बडा बेटा मां को बचाने लगा तो उसे भी हाथ में चाकू लग गया। शोर सुनकर मकान मालिक व पड़ोसी आ गए। तब हमलावर वहां से भागा। सूचना पर पहुंची पुलिस रुखसार को लेकर जेएन मेडिकल कालेज पहुंची। जहां डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

फोरेंसिक टीम ने साक्ष्य जुटाए : सूचना पर एसएसपी कलानिधि नैथानी, एसपी सिटी कुलदीप सिंह, सीओ सिविल लाइन श्वेताभ पांडे, डाग स्क्वाड व फोरेंसिक टीम पहुंच गई। जांच कर साक्ष्य जुटाए।

दबोचा आरोपित : सिविल लाइन इंस्पेक्टर वीपी गिरी के नेतृत्व में गठित टीम ने अनवार को 10 घंटे के अंदर ही दबोच लिया। आरोपित की निशानदेही में हत्या में प्रयुक्त चाकू भी बरामद किया गया है।

Edited By: Jagran