अलीगढ़, जेएनएन। मौसम का मिजाज फिर बदल रहा है। आसमान में बादल छाए हुए हैं। सूरज तेवर दिखाता है, मगर फिर बादलों की अोट में छुप जाता है। ऐसे में पुरबा हवा के झौंके मौसम को सुहाना बना रहे हैं, लेकिन वातावरण में उमस बढ़ती जा रही है, जिससे लोगों के पसीने छूट रहे हैं। आज भी अधिकतम तापमान 39 डिग्री व न्यूनतम 24 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। अगले 24 घंटे में तेज हवा के साथ बूंदाबांदी या बारिश की संभावना भी है।  

 पिछले कई दिनों से शहर धूप से तपा जा रहा है। गर्म हवा शरीर को झुलसा देती हैं। वातावरण में उमस दिनोंदिन बढ़ती जा रही है। आज मौसम के कई रंग दिख रहे हैं। सुबह नियत समय पर सूर्य ने दर्शन दिए। तेवर भी दिखाए। फिर आसमान पर बादल भी छा गए। इससे ज्यादा तपिश तो महसूस नहीं हो रही, पर वातावरण में छाई उमस लोगों को परेशान कर रही है। हालांकि, पुरबा भी चल रही है, इससे राहत तो मिल रही है, लेकिन उमस कम नहीं हो रही। अब लोगों के शरीर से पसीना झरने लगा है। विशेषज्ञों के अनुसार यह प्रीम मानसून की गतिविधियां हैं। अगले कुछ दिनों तक मौसम ऐसा ही रहेगा। आसमान पर बादलों की आवाजाही तेज हो सकती है। इससे बूंदाबांदी या बारिश की संभावना बढ़ रही है। हालांकि, ज्यादा बारिश की उम्मीद नहीं। ऐसे में गर्मी से कुछ राहत मिलती सकती है, लेकिन बारिश के बाद उमस और बढ़ सकती है।  लोग ठंडी वस्तुएं ज्यादा पसंद करते हैं, लेकिन अभी इनकी अनदेखी करनी है। वातावरण में नमी होने के कारण कोल्डड्रिंग, ठंडा शर्बत, लस्सी आदि सेहत को नुकसान पहुंचा सकती हैं। यदि स्वास्थ्य को लेकर थोड़ी भी समस्या हो तो ठंडी चीजों से परहेज अनिवार्य रूप से करना है।