अलीगढ़ (जेएनएन)।  इगलास विधानसभा क्षेत्र में उपचुनाव का जोश बढ़ता जा रहा है। सुबह 7 बजे मतदान शुरू हो गया। कई जगह ईवीएम खराब होने चुनाव देरी से शुरू हुआ है। फिलहाल कहीं भी हंगामा की कोई सूचना नहीं है। 10 बूथों पर अभी मतदान शुरू नहीं हो सका है। कहीं विकास कार्य न होने से मतदाता नाराज हैं  तो कहीं छुट्टा पशुओं को न पकड़े जाने से गांव हसनगढ़, धारा की गढ़ी व दोंकोली,  नवलपुर, अहल्दा, गड़ाखेड़ा के बूथों पर सन्नाटा है। धाराकी गढ़ी  में अभी तक एक भी वोट नहीं पड़ा है। यहां के मतदाता किसी बड़े नेता के आश्वासन का इंतजार कर रहे हैं। बेसवां के गांव कपूरा खेड़ा, नवलपुर में लोगों को अधिकारी समझाने में जुटे हैं। शाम पांच बजे तक 33.2 फीसद मतदान हो सका। एेसा लंबे समय बाद हुआ जब इतना कम मतदान हुआ हो। 

3.75 लाख हैं मतदाता 

विधानसभा क्षेत्र के 3.75 लाख मतदाता सोमवार को सात प्रत्याशियों में से एक को विधायक चुनेंगे।शाम छह बजे तक मतदान होगा। मतदान के बाद धनीपुर मंडी के स्ट्रांग रूम में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) को रखा जाएगा। 24 अक्टूबर को गिनती होगी। दोपहर एक बजे तक विधायक के नाम की घोषणा होने की उम्मीद है। 21 सितंबर को आयोग ने उपचुनाव की अधिसूचना जारी की। 23 से 30 सितंबर तक नामांकन हुए। कुल 10 प्रत्याशियों ने पर्चे भरे। एक अक्टूबर को हुई जांच में रालोद की सुमन दिवाकर समेत तीन दावेदारों के पर्चे रद हो गए। सात प्रत्याशी मैदान में हैं।  

बूथों पर निजी कैमरों ने चौंकाया
बूथों पर निर्वाचन आयोग के निर्देश पर प्रशासन ने कैमरे लगवाए हैं, लेकिन रोरावर के बूथों पर दो-दो  निजी  कैमरे देख हर कोई चौंक गया। अधिकारियों को इसकी खबर ही नहीं थी। जब जानकारी हुई तो एक दूसरे से पूछने में जुट गए। अब यह पता लगाने में जुटे हैं कि ये कैमरे किसने लगवाए। 

सूरतेहाल 

मतदेय स्थल, 458

मतदान केंद्र, 345

कुल मतदाता, 375813

महिला मतदाता, 173912

पुरुष मतदाता, 201891

अन्य मतदाता, 10 

सर्विस मतदाता, 2172

-------------

ईवीएम व वीवीपैट की व्यवस्था 

बैलेट यूनिट, 860

कंट्रोल यूनिट, 860

वीवीपैट, 860

(नोट : बूथों के हिसाब से ये 120 फीसद हैैं) 

-----

ये प्रत्याशी मैदान में

पार्टी, प्रत्याशी, चुनाव चिह्न 

बसपा, अभय कुमार, हाथी

कांग्रेस, उमेश कुमार, हाथ

भाजपा, राजकुमार सहयोगी, कमल 

स्वतंत्र जनताराज पार्टी, पुष्पेंद्र सिंह, झूला 

लोकदल, मुकेश कुमार, टै्रक्टर चलता किसान

भाईचारा पार्टी, विकास कुमार, स्टेथोस्कोप

शोषित पार्टी, हरीश कुमार, कांच का गिलास 

--------

स्कूल, कॉलेज व दफ्तर बंद 

उप चुनाव के चलते सोमवार को जिलेभर के सभी स्कूल, कॉलेज व दफ्तर बंद रहेंगे। विधानसभा की सभी सीमाएं सील कर दी गई हैं। इगलास विधानसभा क्षेत्र व उसके आठ किमी दायरे में आने वाली शराब की दुकानें भी शाम छह बजे तक बंद रहेंगी। 

तैनात किए गए अफसर 

सीडीओ अनुनय झा व एसपी देहात को विधानसभा प्रभारी बनाया गया है। एडीएम प्रशासन कृष्णलाल तिवारी व एसपी क्राइम डॉ. अरविंद कुमार को तहसील क्षेत्र प्रभारी बनाया गया है। एडीएम वित्त विधान जायसवाल व एसपी ट्रैफिक अजीजुल हक को कोल तहसील का प्रभारी बनाया गया है। एडीएम सिटी राकेश मालपाणि व एसपी सिटी अभिषेक नगरीय क्षेत्र के बूथों का भ्रमण करेंगे। एसीएम प्रथम कुलदेव सिंह व अपर पुलिस अधीक्षक शुभम पटेल को लोधा, एसडीएम कोल रंजीत सिंह व सीओ विशाल पांडेय को देहलीगेट क्षेत्र, एसडीएम खैर पंकज कुमार व सीओ खैर को जोन तीन गौंडा एसडीएम अतरौली व सीओ अतरौली को नगर पंचायत बेसवां, डिप्टी कलक्टर संजीव ओझा व सीओ यातायात को जोन-5 में लगाया गया है। 

.........................

इन पहचान पत्रों से 

भी डाल सकेंगे वोट 

तमाम ऐसे मतदाता हैं, जिनके पास फोटोयुक्त पहचान पत्र नहीं हैं। मगर, वे मतदान से वंचित नहीं रहेंगे। वे 12 अन्य विकल्पों से वोट डाल सकते हैं। इनमें पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, राज्य व केंद्र सरकार या सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों, पब्लिक लिमिटेड कंपनियों से कर्मचारियों को जारी फोटोयुक्त सेवा पहचान पत्र, बैंक व डाकघरों से जारी फोटोयुक्त पासबुक, पैनकार्ड, एनपीआर के तहत आरजीआइ से जारी स्मार्ट कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, श्रम मंत्रालय की योजना के तहत जारी किए स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, फोटोयुक्त पेंशन दस्तावेज, सांसदों, विधायकों, विधान परिषद सदस्यों को जारी किए गए पहचान पत्र व आधार कार्ड शामिल हैं।

..................

सपा व रालोद नहीं हैं मैदान में 

उपचुनाव के नामांकन से पहले सपा ने रालोद को समर्थन देने की घोषणा की थी, लेकिन रालोद का पर्चा निरस्त हो गया। रालोद व सपा चुनाव से बाहर हो गए। 

-----

- बूथ के 200 मीटर दूर ही राजनीतिक दलों के बस्ते लगेंगे। 

- कोई भी व्यक्ति 1950 पर दर्ज करा सकेगा शिकायत। 

- मॉडल बूथ पर बुजुर्ग व महिला मतदाताओं का होगा स्वागत। 

- जोनल मजिस्ट्रेट, सेक्टर मजिस्टे्रट करते रहेंगे भ्रमण।

- मतदान से एक घंटे पहले सभी बूथों पर होगा मॉक पोल होगा।

..........

कड़ी सुरक्षा में होगा मतदान

उप चुनाव के लिए प्रशासन ने कमर कस ली है। किसी ने अराजकता फैलाने का प्रयास किया तो उसे जेल भेजा जाएगा। यह जानकारी रविवार को जिला निर्वाचन अधिकारी (डीएम) चंद्रभूषण सिंह ने पोलिंग पार्टियों को रवाना करने के दौरान कही। 

उन्होंने बताया कि विधानसभा क्षेत्र को 50 सेक्टर में बांटकर पांच जोनल मजिस्ट्रेट व 50 सेक्टर मजिस्ट्रेट तैनात किए गए हैैं। जोनल मजिस्ट्रेट की निगरानी तीनों एडीएम व सीडीओ करेंगे। उन पर डीएम-एसएसपी की नजर रहेगी। सभी के साथ सीओ व एसपी स्तर के अधिकारी रहेंगे। 

सेक्टर मजिस्ट्रेट, माइक्रो आब्जर्वर, जोनल मजिस्ट्रेट, वीडियोग्राफी, उडऩदस्ता के साथ सुरक्षा के लिए बूथ स्तर पर योजना बनाई गई है। पर्दानशीं महिला मतदाताओं की पहचान के लिए हर बूथ पर महिला कर्मी नियुक्ति हैं। 

मतदाता किसी प्रत्याशी का चुनाव चिह्न लगाकर मतदान केंद्र में प्रवेश नहीं करेगा। इलेक्ट्रॉनिक एवं सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों पर कार्रवाई होगी। 

सीमा पर चेक होंगे वाहन

एसपी देहात मणिलाल पाटीदार ने बताया कि इगलास विधानसभा क्षेत्र की सीमाओं को सील कर पुलिस तैनात की गई है। यहां से गुजरने वाले वाहनों को चेकिंग के बाद ही आने व जाने दिया जाएगा। पोलिंग बूथों पर एसएसबी (सीमा सुरक्षा बल) की तीन कंपनियों के साथ आरएएफ, पीएसी की दो-दो कंपनियां, चार एसपी, सात सीओ, 25 थानेदार, 150 दारोगा, 100 एएसआइ, 100 हेड कांस्टेबल, 1500 सिपाही, तीन फ्लाइंग टीम, चार मोबाइल, पांच क्यूआरटी टीमें जायजा लेती रहेंगी। दस स्थानों पर पुलिस पिकेट टीम तैनात रहेंगी। 

Posted By: Mukesh Chaturvedi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप