हाथरस (जेएनएन)। जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए कलक्ट्रेट स्थित जिला मजिस्ट्रेट न्यायालय में तीन नामांकन पत्र दाखिल किए गए। बसपा के पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय के भाई और पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष विनोद उपाध्याय भाजपा की पट्टिका गले में पहनकर नामांकन करने पहुंचे। उन्होंने दो सेट में अपना नामांकन पत्र दाखिल किया, जबकि उनकी पत्नी सरोज उपाध्याय ने एक सेट में अपना नामांकन भरा। सबसे अंत में निवर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष और सपा की जिलाध्यक्ष ओमवती यादव ने एक सेट में अपना पर्चा दाखिल किया।

ऐसे किया प्रत्याशियों ने नामांकन
वार्ड संख्या 21 के सदस्य विनोद उपाध्याय का काफिला दोपहर पौने 12 बजे कलक्ट्रेट पहुंचा। उनके साथ बड़े भाई रामवीर उपाध्याय, रामेश्वर उपाध्याय, अन्य सदस्य और बड़ी संख्या में समर्थक थे। विनोद उपाध्याय गले में भाजपा की पट्टिका डालकर कार से उतरे तो सब चौंक गए। रामवीर उपाध्याय समर्थकों के साथ कलक्ट्रेट के बाहर ही पेड़ के नीचे बैठ गए। विनोद उपाध्याय के साथ प्रस्तावक रामेश्वर उपाध्याय, सुनीता देवी, और अनुमोदक कल्पना उपाध्याय, सत्यपाल ङ्क्षसह व उनके अधिवक्ता जिला मजिस्ट्रेट न्यायालय में पहुंचे।

दो सेट के साथ किया नामांकन
विनोद उपध्याय ने दो सेट में नामांकन पत्र जिलाधिकारी को सौंपा। विनोद उपाध्याय के बाद उनकी पत्नी और वार्ड संख्या 19 से सदस्य सरोज उपाध्याय ने नामांकन पत्र भरा। उनके साथ प्रस्तावक रामवती और अनुदेशक राजकुमार थे। इसके बाद दोपहर 12:45 बजे ओमवती यादव का काफिला कलक्ट्रेट पहुंचा। उनके साथ पूर्व केंद्रीय मंत्री रामजी लाल सुमन, ओमवती के पति एमएलसी जसवंत ङ्क्षसह समेत कई सदस्य और समर्थक मौजूद थे। वार्ड नंबर 4 से सदस्य ओमवती यादव अपने प्रस्तावक राजाराम और अनुमोदक श्याम ङ्क्षसह के साथ जिला मजिस्ट्रेट न्यायालय में गईं और अपने नामांकन का एक सेट जिला मजिस्ट्रेट को सौंपा।

Posted By: Sandeep Saxena

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप