अलीगढ़, जागरण संवाददाता। फूल गोभी, शिमला मिर्च, अदरक, अंगूर, बेल्ट, गुब्बारा, बल्ला जैसे चुनाव चिह्नों पर निर्दलीय प्रत्याशी इस बार चुनाव लड़ेंगे। चुनाव आयोग ने प्रदेश के सभी जिलों के निर्वाचन विभाग को 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए चुनाव चिह्नों की सूची जारी कर दी है। निर्दलीय प्रत्याशियों के लिए कुल 197 चुनाव चिह्न इस बार मुक्त रखे गए हैं। वहीं, राष्ट्रीय व राज्य स्तरीय दलों के प्रमुख 10 चुनाव चिह्नों को आरक्षित किया गया है। निर्दलीय प्रत्याशी रिटर्निंग आफिसर से चुनाव चिह्न प्राप्त करेंगे।

चुनाव आयोग ने विधानसभा चुनाव की घोषणा कर दी है। आगरा-अलीगढ़ मंडल के आठ जिलों की 40 विधानसभाओं में दो चरणों में चुनाव होना है। मतगणना 10 मार्च को हो है। 10 फरवरी को पहले चरण के मतदान के लिए नामांकन की शुरुआत हो गई है। शुक्रवार को नामांकन का अंतिम दिन है। ऐसे में चुनाव से जुड़ी तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। चुनाव आयोग ने अब गुरुवार को चुनाव के लिए चुनाव चिह्नों की सूची जारी कर दी है। निर्दलीय प्रत्याशियों के लिए कुल 197 चुनाव चिह्न मुक्त किए गए हैं। वहींं, राज्य स्तरीय व राष्ट्रीय दलों के लिए 10 चुनाव चिह्न आरक्षित रखे गए हैं।

निर्दलीयों के लिए यह हैं मुक्त चुनाव चिह्न

अलमारी, एयरकंडीशनर, सेब, आटो रिक्शा, बेबी बाकर, गुब्बारा, चूड़ियां, बल्ला, बल्लेबाज, बैटरी टार्च, मोतियों का हार, बेल्ट, बेंच, साइकिल पंप, दूरबीन, बिस्कट, ब्लैक बोर्ड, आदमी व पाल युक्त नौका, बक्शा, डबल रोटी, ब्रेड टोस्टर, ईंटे, ब्रुश, बाल्टी, केक, कैकुटलेटर, कैमरा, केन, खाट, कैरमबोर्ड, सीसीटीवी कैमरा, जंजीर, चक्की, चकरा-रोलर, चिमनी, चिमटी, कोट, नारियल फार्म, कलर ट्रे ब्रुश, कंप्यूटर, कंप्यूटर माउस, चारपाई, क्रेन, घन, कप और प्लेट, कटिंग प्लायर, हीरा, डीजल पंप, डिश एंटीना, डीजे, द्वार घंटी, दरबाजे का हैडल, ड्रिल मशीन, डंबल्स, कान की बालियां, बिजली का खंभा, लिफाफा, बांसुरी, फुटबाल खिलाड़ी, फ्राक, गैस िसिलेंडर, गैस चूल्हा, उपहार, कांच का गिलास, ग्रामोफोन, हाथ घाड़ी, हारमोनियम, टोप, हैडफोन, हैलीकाप्टर, हेलमेट, हाकी और बाल, डमरू, आइसक्रीम, प्रेस, कटहल, केतली, किचन सिंक, भिंडी, लैपटाप, कुंडी, लैटर बाक्स, लाइटर, लूडो, माइक, मिक्सी, नेल कटर, गले की टाई, नूडल्स कटोरा, कढ़ाई, पेंट, नासपाती, मटर, पैनड्राइव, पेंसिल डिब्बा, कलम की निब, भाला फेंक, टीलर, टाफियां, चिमटा, दांत ब्रुश, टूथपेस्ट, ट्रक, तुरई, ट्यूबलाइट, टाइपिंग मशीन, टायर, छड़ी, बटुआ, अखरोट, तरबूज, पानी का टैंक, कुआ, सीटी, नागरिक व कूड़ेदान।

10 चुनाव चिह्न आरक्षित

चुनाव आयोग ने प्रदेश भर के लिए 10 प्रमुख दलों के चुनाव चिह्नों को आरक्षित किया गया है। इसमें भाजपा के लिए कमल, कांग्रेस के लिए हाथ, सपा के लिए साईकिल, राष्ट्रीय लोकदल के लिए हैडपंप, बसपा के लिए हाथी, आल इंडिया तृणमूल कांग्रेस का पुष्प, कम्युनिस्ट पार्टी को गेहूं की बाली-हंसिया, कम्युनिस्ट पार्टी एम को हथौड़ा-हंसिया, नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी के लिए घड़ी व नेशनल पीपल्स पार्टी के लिए किताब आरक्षित की गई है। संबंधित दल के प्रत्याशी ही इन चुनाव चिह्नों को ले सकेंगे।

निर्दलीय प्रत्याशियों के लिए नियम

प्रमुख दलों के प्रत्याशियों को बी फार्म के आधार पर चुनाव चिह्न आवंटित कर दिए जाएंगे। निर्दलीय उम्मीदवारों के पास अपनी पसंद के तीन चिह्न चुनने का विकल्प है। इनमें से एक चुनाव चिह्न आवंटित किया जाएगा। अगर किसी चिह्न पर एक से ज्यादा दावेदार होते हैं तो रिटर्निंग आफिसर अंतिम फैसला लेंगे।

चुनाव आयोग से निर्दलीय प्रत्याशियों के लिए 197 चुनाव चिह्नों की सूची जारी कर दी है। सभी प्रत्याशी इनमें से तीन चुनाव चिह्लों का विकल्प दे सकते हैं। अंतिम फैसला संबंधित रिटर्निंग आफिसर के स्तर से होगा।

कौशल कुमार, सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी

Edited By: Sandeep Kumar Saxena