अलीगढ़, जागारण संवाददाता।  शहर में अवैध रूप से चल रहे आटो-टेंपो पर लगाम लगाने के लिए पुलिस ने यूनिक नंबर डालने की कवायद शुरू की है। इसके तहत 730 आटो पर नंबर डाले जा चुके हैं। अभी 52 वाहन शेष हैं। लेकिन, इनमें से कोई वाहन जिले से बाहर है तो किसी से संपर्क नहीं हो पा रहा। इसके बाद अब पुलिस जिले के 1300 ई-रिक्शा पर भी यूनिक नंबर डालेगी।

बिना रूट निर्धारण के धड़ल्‍ले से दौड़ रहे आटो टेंपो

अब तक शहर में धड़ल्ले से आटो-टेंपो घूम रहे थे। न तो इनके रूट निर्धारित थे और न ही इनकी कोई पहचान कहीं दर्ज थी। अक्सर जहरखुरानी, चोरी, पर्स लूट व छेड़छाड़ की घटना में टेंपो व ई-रिक्शा की पहचान नहीं हो पाती। साथ ही अवैध रूप से चलने वाले आटो, टेंपो के चलते यातायात व्यवस्था भी चरमरा जाती है। इसे देखते हुए एसएसपी कलानिधि नैथानी ने आपरेशन नकेल के तहत टेंपो को यूनिक नंबर देने की पहल की है। इसके तहत शहर के प्रमुख चौराहों पर टेपों को रोककर मौके पर ही पेंटर के जरिये बड़े अक्षरों में चार अंकों का नंबर लिखवाया गया है, ताकि दूर से ही इनकी पहचान हो सके और लोग भी टेंपो में बैठने से पहले सुरक्षित महसूस करें। मौके पर नंबर दर्ज करने के साथ पुलिस ने टेंपो का रिकार्ड दर्ज किया है। इसमें चालक का नाम और नंबर भी दर्ज किया गया है।

अब तक 730 आटो पर नंबर डाले जा चुके हैं

अब तक 730 आटो पर नंबर डालने की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। वहीं 52 आटो शेष रह गए हैं। पुलिस इनके चालकों से संपर्क कर रही है। लेकिन, कोई जिले से बाहर है तो किसी का फोन ही बंद है। एसपी ट्रैफिक सतीश चंद्र ने बताया कि 730 आटो पर नंबर डाले जा चुके हैं। शेष आटो चालकों से संपर्क किया जा रहा है। इसके बाद ई-रिक्शा को लेकर जल्द ही निर्णय लिया जाएगा।

Edited By: Anil Kushwaha