अलीगढ़ (जेएनएन)।  कोतवाली क्षेत्र स्थित बाबरी मंडी मोहल्ले से बच्चे उठाने की अफवाह से शनिवार को खलबली मच गई। वहां से गुजर रही एंबुलेंस में बच्चे बैठा कर ले जाने की सूचना पुलिस को दी गई। एक मीडियाकर्मी ने तो इस एंबुलेंस का फोटो सोशल मीडिया पर वायरल करते हुए 15 बच्चे बरामद होने की अफवाह फैला दी। इसके बाद तो कोतवाली पर भीड़ लग गई। एंबुलेंस चालक को पुलिस ने हिरासत में भी ले लिया, लेकिन जांच में असलीयत सामने आने पर उसे छोड़ दिया गया। अफवाह फैलाने में पुलिस ने मीडियाकर्मी सहित दो के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। इस तरह का जिले में पहला मामला दर्ज किया गया है। 

एंबुलेंस से मरीज छोड़ने गया था

एंबुलेंस चालक जाकिर नगर निवासी आरिफ जेएन मेडिकल कॉलेज से एक मरीज को भुजपुरा स्थित टावर वाली गली पर छोडऩे गए थे। लौटते वक्त बाबरी मंडी पर बजरिया के कुछ बच्चे वैन के पीछे लटक गए, जिन्हेंं चालक ने हटाया। एक बच्चा कुछ देर वहां खड़ा रहा तो चालक ने फटकार दिया। तभी क्षेत्र के ही राजकुमार ने 100 नंबर पर पुलिस को एंबुलेंस में बच्चों को डालकर ले जाने की सूचना दे दी।

यह फैलाई अफवाह

कुछ देर बाद ही पुलिस ने एंबुलेंस को भुजपुरा चौराहे पर रोक लिया और पास ही स्थित चौकी पर ले गई। इस बीच बाबरी मंडी निवासी मीडियाकर्मी आकाश ने एंबुलेंस का फोटो ले लिया और सोशल मीडिया पर 15 बच्चे बरामद होने की सूचना वायरल कर दी। यह खबर फैलते ही सैकड़ों महिलाएं व पुरुष कोतवाली पहुंच गए। पुलिस ने चालक से पूछताछ की। इसने जिस बच्चे को डांटा, उससे भी पूछताछ की तो आरोप गलत साबित हुए। इंस्पेक्टर रवेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि अफवाह फैलाने के आरोप में राजकुमार व आकाश के खिलाफ 153 आइटीसी एक्ट में मामला दर्ज किया गया है। दोनों की तलाश की जा रही है।

घर के बाहर से बच्चे के अपहरण का प्रयास

सासनीगेट क्षेत्र  के माली पाड़ा में घर के बाहर से आठ साल के बच्चे के अपहरण का प्रयास किया गया। पुलिस को इलाके के सीसीटीवी कैमरे के फुटेज में दिखे दो युवकों पर शक है, जिनकी तलाश की जा रही है। कुआं वाली गली, माली पाड़ा निवासी लालाराम का आठ वर्षीय बेटा शिवम पास के ही स्कूल में तीसरी कक्षा में पढ़ता है। शनिवार को वह स्कूल नहीं गया था। दोपहर साढ़े 12 बजे घर के बाहर खड़ा था। आरोप है कि दो युवक बाइक पर आए, जिनमें एक ने हेलमेट पहन रखा था। इन्होंने बच्चे को उठा कर ले जाने का प्रयास किया। बच्चे ने एक युवक का हाथ काट काट लिया और शोर मचाया। परिजन आते, उससे पहले ही दोनों युवक भाग गए। जयगंज चौकी प्रभारी आशीष कुमार ने बताया कि लालाराम ने तहरीर दी है। जांच की जा रही है।

छोड़ दो नहीं तो थाना भस्म कर दूंगा

 बच्चा चोरी करने के शक में शनिवार को पकड़े गए एक युवक ने खुद को भोले नाथ का भक्त बताते हुए जीआरपी थाने को ही भस्म करने की धमकी दे डाली। दरअसल, दोपहर करीब साढ़े बारह बजे तीन बहनें बच्चों के साथ रेलवे स्टेशन पहुंची। उन्हें दिल्ली जाना था। इस दौरान हरदुआगंज के कलाई गांव का एक युवक एक महिला की गोद में लगे बच्चे को खिलाने लगा। इसका महिलाओं ने विरोध किया, लेकिन वह माना नहीं और बच्चे को गोद में लेने का प्रयास करने लगा। इस बीच उसने अभद्रता भी की तो महिलाओं ने शोर मचा दिया। जीआरपी कर्मियों ने युवक को दबोच लिया और थाने ले आए। यहां युवक मंत्र पढऩे लगा और धमकी देने लगा। इंस्पेक्टर यशपाल सिंह ने बताया कि आरोपित से अभी पूछताछ की जा रही है।

बच्चा चोरी की सूचना पर शांतिभंग में कार्रवाई

थाना बन्नादेवी  इंस्पेक्टर रवेंद्र कुमार दुबे ने बताया कि शनिवार शाम को बरौला पुल के पास मोहल्ले के ही दो पक्षों में किसी बात को लेकर विवाद हो गया था। इसी बीच भाईजी नगर (सारसौल) निवासी संजय ने 1000 डायल पर बच्चा चोरी की सूचना दे दी। आरोपित के खिलाफ शांतिभंग में कार्रवाई की गई है।

Posted By: Mukesh Chaturvedi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप