अलीगढ़, जागरण संवाददाता। Aligarh Road Accident : सोमना-खैर मार्ग पर गांव हीरपुर के समीप बुधवार देर शाम अज्ञात वाहन ने बाइक में टक्कर मार दी। हादसे में बाइक सवार two young men पर ही मौत हो गई।

Zilla Panchayat Member ने स्‍वजन को ढांढस बंधाया :  क्षेत्र के गांव देवपुर निवासी 49 वर्षीय जवाहर सिंह खेती-बाड़ी करने के साथ पत्थर घिसाई का काम करते थे। शाम को वह गांव के ही धर्मपाल सिंह के 22 वर्षीय बेटे धर्मेंद्र सिंह उर्फ भोला के साथ बाइक से किसी काम से वीरपुरा गए थे। जहां से दोनों गांव लौट रहे थे। तभी पीछे से आ रहे किसी अज्ञात वाहन ने उनकी बाइक में टक्कर मार दी। हादसे में दोनों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। हादसे के बाद बड़ी संख्या में राहगीरों की भीड़ मौके पर एकत्रित हो गई। सूचना पर इंस्पेक्टर गभाना एमपी सिंह व स्वजन भी मौके पर पहुंच गए। उधर Zilla Panchayat Member संजू सिंह भी जानकारी पर पहुंच गए और स्वजन को ढांढस बंधाया। जवाहर सिंह ने चार बच्चों के पिता थे। वहीं धर्मेंद्र तीन बहन व एक भाई के बीच तीसरे नंबर के थे।

खुशियां मातम में बदली : धर्मेंद्र व उनके छोटे भाई दिनेश कुमार का पिछले दिनों अतरौली के कासिमपुर से रिश्ता तय हुआ था। नवबंर में शादी होनी थी। रक्षाबंधन का त्योहार को लेकर दोनों भाई की ससुराल से मंगलवार को सोगी आई थी। परिवार में खुशी का माहौल था। लेकिन बुधवार आते-आते स्वजन की खुशी मातम में बदल गई।

रक्षाबंधन पर तोहफा देने का किया था वायदा : धर्मेंद्र की तीन बहन सुनीता, ममता, व मोनिका का रो-रोकर बुरा हाल था। तीनों ही बहनें रोते-रोते बस एक ही बात बोल रही थी कि भाई तुमने तो राखी के बदले अच्छा तोहफा देने का वायदा किया था। अब रूठकर इतनी दूर क्यों चले गए।

Edited By: Anil Kushwaha