अलीगढ़, जेएनएन। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) के जिस इदारे ने एक नहीं बल्कि आधा दर्जन से ज्यादा ओलंपियंस देश को दिए, वहां ओलंपिक में भारतीय हॉकी टीम की जीत के जश्न में तिरंगा फहराकर टीम को सलाम किया गया। एएमयू के सिंथेटिक हॉकी मैदान में गेम्स कमेटी के पदाधिकारियों, एएमयू जिम्नेजियम के खिलाड़ी व प्रशिक्षक, एएमयू के हॉकी खिलाडिय़ों व एबीके गल्र्स हाईस्कूल की बालिका खिलाडिय़ों ने हाथ में तिरंगा व हॉकी लेकर चक्कर लगाया।

हिंदुस्‍तान जिंदाबाद के लगाए नारे

एएमयू गेम्स कमेटी के डिप्टी डायरेक्टर स्पोट्स व अंतरराष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी अनीस उर रहमान खान, एएमयू हॉकी के वरिष्ठ प्रशिक्षक अरशद महमूद, एबीके स्कूल के खेल प्रशिक्षक शमशाद निसार आजमी, मोहम्मद इमरान खान ने जश्न में हिंदुस्‍तान जिंदाबाद के नारे लगाते हुए एक-दूसरे को मिठाई खिलाई। एएमयू जिम्नेजियम प्रशिक्षक व जिला ओलंपिक एसोसिएशन के अध्यक्ष मजहर उल कमर ने संचालन किया। उन्होंने कहा कि लंबे अंतराल के बाद राष्ट्रीय खेल हॉकी में ओङ्क्षलपिक में पदक जीतने से इस खेल के प्रति युवाओं में रुचि बढ़ेगी। नए युग की शुरुआत के साथ हॉकी खेल में फिर से क्रांति आएगी। इस दौरान मोहम्मद मंसूर, सोहेल फारूकी, नावेद खान, मोहम्मद शहाब खान, हीरा ङ्क्षसह बघेल, राधाचरण, मोहम्मद गुफरान, राबिया, कुमारी ममता, जेनब फातिमा, आलिया राशिद आदि मौजूद रहे।

एएमयू से निकले हॉकी के ओलंपियंस

इनाम उर रहमान, गोविंदा, जफर इकबाल, अली सईद, सरदार जोगिंदर सिंह, मसूद मिनहाज, असलम शेर खान, अब्दुल कयूम आदि विभिन्न ओलंपिक आयोजनों में भारतीय हॉकी टीम के पदक जीतने में अपनी भूमिका निभा चुके हैं। इनके हुनर ने एएमयू के साथ-साथ देश का नाम दुनिया में रोशन किया है।