अलीगढ़ : देहलीगेट इलाके के सरस्वती विद्या मंदिर स्कूल गौंडा मोड़ में पढ़ने वाले तीन छात्र सोमवार को एक साथ गायब हो गए। तीनों दोस्त हैं। परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है और उन्होंने अपहरण की आशंका जताते हुए मुकदमा दर्ज कराया है।

मूलरूप से एटा के थाना सकरौली के गांव सोना के शैलेंद्रपाल सिंह यहां देहलीगेट क्षेत्र में प्रिंस नगर कॉलोनी में रहते हैं। पेशे से किसान हैं। उनका सबसे छोटा बेटा आयुष जादौंन (12) सरस्वती विद्या मंदिर विद्यालय में कक्षा आठ में पढ़ता है। पड़ोसी किसान ललतेश चौधरी का बेटा ऋषभ (12) कक्षा छह में पढ़ता है। इसी विद्यालय की कक्षा आठ में ही खेरेश्वर धाम कॉलोनी निवासी प्राइवेट नौकरी करने वाले प्राजुल कौशिक का बेटा अनुरव कौशिक (13) भी पढ़ता है। अनुरव की मां पूनम कौशिक विद्यालय में शिक्षिका हैं। तीनों छात्र आपस में दोस्त हैं। सोमवार को तीनों स्कूल पहुंचे। छुट्टी होने के काफी देर बाद भी घर न पहुंचे तो परिजन परेशान हो गए। स्कूल जाकर जानकारी की तो पता चला कि वे छुट्टी में स्कूल से निकले हैं। उसके बाद कहां गए? इसकी जानकारी नहीं है। किसी अनहोनी की आशंका से तीनों के घरों में कोहराम मच गया। परिजनों ने अपहरण की आशंका भी जताई है। शाम को आयुष जादौंन के पिता शैलेंद्र पाल सिंह ने मुकदमा दर्ज कराया है। परिजन छात्रों की तलाश में जुटे हैं। इंस्पेक्टर देहलीगेट सुनील कुमार सिंह ने बताया कि लापता छात्रों को तलाशा जा रहा है। खास बात यह है कि शहर से इस तरह की घटनाएं पहले भी हो चुकी हैं। बावजूद कोई ठोस कार्रवाई पुलिस द्वारा नहीं की जाती है।

Posted By: Jagran